मुज़फ़्फ़रपुर में “शाम की पाठशाला” कि शुरुआत

यह शहर के लिए पहला मौका हैं जब ग्रामीण क्षेत्रों के महिलाओ और पुरुषों को शिक्षित करने के लिए शाम की पाठशाला खोली जा रही हैं, नाम से ही मालूम पड़ता हैं कि शाम को शिक्षित किया जायेगा.

संस्थापक ई0शशि रंजन कुमार ने बताया कि गाँव समाज के वैसे लोग पढ़ाई कर सकेंगे जो खेतो में, रिक्शा, ठेला घर में काम काज जैसे काम करते हैं, उन्हें शाम के समय एक जगह बैठा कर अक्षरज्ञान और जरूरी जानकारी भी दी जायेगी.

ये बाते हम हम सभी को काफी आकर्षित कर रही हैं, शशि बताते हैं कि कई बुजुर्ज महिलाये अब अंग्रेजी भी बोलने लगी हैं पाठशाला के माध्यम से.

मुज़फ़्फ़रपुर में शाम की पाठशाला प्रथम चरण में चार केंद्रो पर संचालित की जायेगी. अभी ये पाठशाला राज्य के पूर्णिया ,कटिहार, भागलपुर, किशनगंज में चल रही हैं. इनमे कई अधिकारी शिक्षा का दान भी दे चुके हैं.

CLICK ON IMAGE FOR MORE DETAILS

Advertise, Advertisement, Muzaffarpur, Branding, Digital Media

One thought on “मुज़फ़्फ़रपुर में “शाम की पाठशाला” कि शुरुआत”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *