तीन स्टेट की पुलिस को थी मुजफ्फरपुर के संदीप जायसवाल की तलाश, पटना के होटल से हुई है गिरफ्तारी

संदीप जायसवाल, ये उस शख्स का नाम है जिसकी तलाश एक—दो नहीं बल्कि तीन स्टेट की पुलिस को थी. ये एक बड़ा शातिर है. जिसने मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन कराने के नाम पर तीन स्टेट के लोगों से अब तक करोड़ों रुपए ठग लिए हैं. इस शातिर की तलाश बिहार, झारखंड और वेस्ट बंगाल की पुलिस को काफी दिनों से थी. लेकिन ये हाथ आया पटन पुलिस के. एसएसपी मनु महाराज के अनुसार पटना के कोमल थाना इलाके से इस बड़े ठग को पकड़ा गया है.

होटल पाटलिपुत्रा निर्वाणा में ये खुद की पहचान बदलकर रह रहा था. जैसे ही इसके बारे में पता चला, उसके बाद पुलिस टीम ने छापेमारी की. होटल के कमरा नंबर 116 में ये रह रहा था. पुलिस टीम ने इस शातिर ठग को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया. कस्टडी में लिए जाने के बाद इससे पूछताछ की. दरअसल, बेगूसराय के रहने वाले अखिलेश प्रसाद ने पटना के कोतवाली थाना में एक एफआईआर 12 सितंबर को दर्ज कराई थी.

अखिलेश का आरोप है कि मेडिकल कॉलेज में एडमिशन कराने के नाम पर संदीप ने उससे 40 लाख रुपए लिए थे. न तो उसने मेडिकल कॉलेज में एडमिशन ही कराया और न ही रुपए वापस लौटाए. काफी दिनों से वो टरका रहा था. इसके बाद ही उसने कानूनी कार्रवाई के लिए कदम उठाया. एसएसपी मनु महाराज के अनुसार पकड़ा गया संदीप जायसवाल मूल रूप से मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुर लक्ष्मी चक का रहने वाले उमेश चौधरी का बेटा है.

इस शातिर के खिलाफ कोलकाता के विधान नगर थाना में भी एफआईआर दर्ज है. कोलकाता में भी इसने कई लोगों से रुपए ठग रख हैं. जानकारी के अनुसार विधान नगर थाने की पुलिस इस शातिर को पहले भी गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. बावजूद इसके इसकी शातिरगिरी रूक नहीं रही है. धड़ल्ले से ये लोगों को अपना शिकार बना रहा है और मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के नाम पर लोगों से रुपए ठग रहा है. इस शातिर की पूरी क्रिमिनल हिस्ट्री को अब खंगाला जा रहा है.

Input:Live Cities

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *