सेंट्रल जेल में सवा चार घंटे छापेमारी, 12 मोबाइल समेत कई सामान जब्त

Jail Muzaffarpur

शहीद खुदीराम बोस केंद्रीय कारा में शनिवार को सवा चार घंटे तक चली छापेमारी में 12 मोबाइल व दो सीम समेत बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामान मिले। डीएम मो. सोहैल के नेतृत्व में सुबह 10.30 बजे शुरू हुई छापेमारी दोपहर 2.45 बजे खत्म हुई। कुल 60 वार्डों की सघन तलाशी ली गई। इसमें दो हजार 60 बंदियों की जांच की गई। इस दौरान बड़ी संख्या में दंडाधिकारी के अलावा पुलिस बल को तैनात किया गया था। छापेमारी से जेल परिसर में हड़कंप रहा।

अहले सुबह चार बजे शहीद खुदीराम बोस के फांसी स्थल पर सलामी देकर लौटे डीएम दोबारा साढ़े 10 बजे सेंट्रल जेल पहुंच गये। बड़ी संख्या में दंडाधिकारी व पुलिस बल को देख जेल प्रशासन भी भौंचक था। डीएम के नेतृत्व में अधिकारियों व पुलिस की टीम ने जेल में दाखिल होते ही चप्पे-चप्पे पर अपनी निगाहें गड़ा दी। बंदियों को किसी भी तरह की हरकत से मना कर दिया गया। इसके बाद सघन जांच शुरू की गई। सवा चार घंटे की जांच के बाद प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी वापस हुए। जेल परिसर से जब्त सामान को लेकर मिठनपुरा थाने में एफआईआर की जा रही है। मोबाइल व सीम को सर्विलांस टीम को जांच के लिए सौंप दिया गया है। जांच में एसडीओ पूर्वी कुंदन कुमार, डीएसपी सहित पुलिस व प्रशासनिक पदाधिकारी शामिल थे।

अनाधिकृत रूप से जेल अस्पताल में थे 22 बंदी

छापेमारी के दौरान जेल अस्पताल में अनाधिकृत रूप से 22 बंदियों को पाया गया। सभी बंदी को उनके बैरक में भेजा गया। बताया जाता है कि इलाज के बहाने बंदी जेल अस्पताल में कब्जा जमा गुटबाजी करते हैं। इसकी भनक जिला प्रशासन को पहले ही लग गई थी। जांच के दौरान पाया गया कि 20 पुरुष व दो महिला बंदी को अस्पताल में रहने की कोई जरूरत नहीं है।

Jail Muzaffarpur

अबतक 20 मोबाइल बरामद, अभी और होने की आशंका

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक जेल परिसर के आसपास दर्जनों संदिग्ध मोबाइल चालू हैं। प्रशासन जेल परिसर में इन्हें ढूंढ़ने में लगा है। पिछले एक माह से लगातार तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। इसमें अबतक 20 से अधिक मोबाइल बरामद हो चुके हैं। कई सीम भी बरामद हुए हैं। इसके अलावा अन्य आपत्तिजनक सामग्री भी मिली है।

जेल परिसर से जब्त सामग्री

12 मोबाइल

02 सीम

04 चार्जर

20 ग्राम गांजा

02 बैट्री

01 इयरफोन

05 कैंची

02 पेन ड्राइव

जेल में छापेमारी के दौरान आपत्तिजनक सामान मिले हैं। इसमें कुछ कगजात भी शामिल हैं। इसे उजागर नहीं किया जा सकता। पुलिस एफआईआर कर आगे की कार्रवाई कर रही है।

– मो. सोहैल, डीएम

Input : Live Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *