खून से लथपथ मिले बेदौल ओपी प्रभारी, हालत गंभीर

औराई थाना के बेदौल ओपी प्रभारी रामाशीष पासवान शुक्रवार की देर रात एनएच-77 के किनारे खून से लथपथ जख्मी हालत में अचेत मिले। उनका सिर फटा था। आसपास काफी खून बिखरा था। वह खाना खाने अकेले जनार चौक स्थित होटल में गए हुए थे। पुलिसकर्मियों ने उन्हें आनन-फानन में अस्पताल भेजा। उनका इलाज नर्सिंग होम में चल रहा है। उनकी हालत गंभीर हुई। बेगूसराय जिला के रहनेवाले रामशीष पासवान की आठ महीने पहले की पोस्टिंग हुई है।

डीएसपी (पूर्वी) गौरव पांडे ने बताया कि घटनास्थल पर खून के धब्बे मिले हैं। मौके से कोई भी ऐसी चीज नहीं मिली है जिससे हमला या हादसे का पता लगाया जा सके। होश आने पर बयान के बाद ही सही जानकारी मिल सकेगी। कटरा इंस्पेक्टर मनोज कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस सड़क दुर्घटना और हमले के बिंदु पर जांच कर रही है। पुलिसकर्मियों के अनुसार, बीती रात रामाशीष पासवान खाना खाने के लिए सिविल ड्रेस में जनार चौक स्थित होटल में गए थे। रात करीब 11 बजे राहगीरों ने ओपी को सूचना दी कि जनार व बेदौल ओपी के बीच एनएच पर प्रभारी खून से लथपथ अचेत पड़े हैं। सवाल यह उठता है कि फिर रात में ओपी प्रभारी अकेले खाना खाने क्यों गए थे। ज्ञात हो कि दो वर्ष पूर्व औराई के ही एक थाना प्रभारी पर नशे में धुत शराब धंधेबाजों ने हमला बोला था।

जमीन विवाद सुलझाने गए थे गांव

पुलिस सूत्रों के अनुसार, शुक्रवार की सुबह दो पक्षों में जमीन विवाद को लेकर हुई झड़प की सूचना पर ओपी प्रभारी जनार पंचायत के बेनीपुर गांव गए थे। उस वक्त हंगामा बढ़ने पर वह ओपी लौट आए थे। ओपी से पुलिस बल लेकर फिर गांव गए और एक ग्रामीण को हिरासत में लेकर लौटे। हालांकि, पूछताछ के बाद ग्रामीण को छोड़ दिया था। इस मामले में किसी पक्ष ने शिकायत नहीं की है।

Input:Live Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *