भारतीय मानक ब्‍यूरो (The Bureau of Indian Standards (BIS)) की पटना शाखा में शनिवार को अजीब स्थिति बन गई। दरअसल, केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री अश्‍व‍िनी चौबे (Ashwin Chaubey) कल पटना में थे और इस दौरान वे बीआइएस के कार्यालय में भी गए। इस दौरान एक खास बात और यह थी कि कल ही केंद्रीय मंत्री का जन्‍मदिन था। विभागीय मंत्री को खुश करने के लिए कार्यालय में उनका जन्‍मदिन मनाने की तैयारियां कर ली गई थीं। मंत्री की जन्‍मतिथि मनाने के लिए केक भी मंगाया गया था। कार्यालय में मौजूद अफसरों ने केंद्रीय मंत्री के निरीक्षण के दौरान उन्‍हें इस खास मौके की शुभकामना दी और केक काटने का अनुरोध भी किया। कार्यालय के कर्मी और अफसर तब हैरान रह गए, जब उन्‍होंने केक काटने से साफ तौर पर इन्‍कार कर दिया।

बीआइएस के कार्यालय में मंत्री अश्विनी चौबे के हाथों केक काटने की पूरी तैयारी की गई थी, लेकिन उन्होंने इससे साफ इन्‍कार तो किया ही, आगे से ऐसा नहीं करने की नसीहत भी दी। मंत्री ने कहा कि केक काट कर जन्मतिथि नहीं मनानी चाहिए। यह गलत परंपरा है। इसकी जगह पौधारोपण कर, या अन्य धार्मिक विधि से जन्मतिथि मनानी चाहिए।

निरीक्षण के दौरान अधिकारियों को दिए कई बिंदुओं पर निर्देश

निरीक्षण के दौरान मंत्री ने अधिकारियों को ई निर्देश दिए। उन्‍होंने कहा कि पीवीसी पाइप निर्धारित मानक के अनुरूप ही बनाने होंगे। इस दिशा में पहले भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इनका पालन करना होगा। उन्‍होंने कहा कि पाल्यूशन कंट्रोल बोर्ड व उपभोक्ता मंत्रालय की ओर से निर्धारित मानदंडों के अनुरूप ही पीवीसी पाइप बनाने होंगे। उपभोक्ताओं को विभिन्न मोर्चे पर जागरूक करने के लिए कंपनियों को अपना सीआरएस फंड का उपयोग करना चाहिए। कार्यालय प्रमुख सुमन कुमार गुप्ता ने कहा कि पाल्यूशन कंट्रोल बोर्ड की ओर से पीवीसी पाइप में तय शीशे की मात्रा ही रहनी चाहिए, जबकि इसका आइएसआइ सर्टिफिकेशन भी होना चाहिए।

Source: Dainik Jagran

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

Previous article8 हजार से अधिक पदों पर हो रही है भर्ती, 3 अक्टूबर तक कर सकते हैं आवेदन
Next articleनक्सलवाद पर ‘प्रहार’ के लिए सरकार तैयार! अमित शाह ने 10 राज्यों के साथ की उच्चस्तरीय बैठक