राज्य सरकार ने नये वर्ष 2022 के लिए सरकारी कर्मियों के लिए छुट्टियों का कैलेंडर जारी कर दिया है. इसके अनुसार, विभिन्न पर्व-त्योहार और अन्य दिवस के मौकों पर सरकारी कर्मियों को वर्ष के दौरान कुल 36 छुट्टियां मिलेंगी.इनमें 15 सामान्य अवकाश, एनआइ एक्ट के तहत 21 और 20 ऐच्छिक या प्रतिबंधित अवकाश शामिल हैं. लेकिन, नये साल में विभिन्न अवसरों पर पड़ने वाली आठ छुट्टियां रविवार को पड़ रही हैं, जिससे रविवार के साथ छुट्टी के दिन पड़ने के कारण कर्मियों को पूरे साल मिलने वाली छुट्टियों की संख्या कम हो जायेंगी.

नये वर्ष में शब-ए-बारात और होली दोनों शनिवार (19 मार्च) को पड़ रही है. वहीं, विश्वकर्मा पूजा यानी 17 सितंबर को ही चेहल्लुम की भी छुट्टी है. ये दोनों पर्व भी एक ही दिन पड़ रहे हैं. जो छुट्टियां रविवार को पड़ रही हैं, उनमें गुरु गोविंद सिंह जयंती (9 जनवरी), रामनवमी (10 अप्रैल), मई दिवस (1 मई), बकरीद (10 जुलाई), छठ (30 अक्तूबर), गांधी जयंती (2 अक्तूबर), हजरत मोहम्मद जयंती (9 अक्तूबर) और क्रिसमस-डे (25 दिसंबर) शामिल हैं.

इसके अलावा सात छुट्टियां शनिवार को पड़ रही हैं. इसका नुकसान सचिवालय कर्मियों को खासतौर से होगा, क्योंकि सचिवालय में ऐसे भी शनिवार को छुट्टी रहती है.

जो छुट्टियां शनिवार को पड़ रही हैं, उसमें सरस्वती पूजा (5 फरवरी), शब-ए-बरात एवं होली (19 मार्च), अशोक अष्टमी (9 अप्रैल), कुंवर सिंह जयंती (23 अप्रैल), चेहल्लूम (17 सितंबर) और दुर्गा पूजा की महासप्तमी (2 अक्तूबर) शामिल हैं.

Source: Prabhat Khabar

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

Previous articleमुजफ्फरपुर में फोरलेन निर्माण में लगे झारखंड के मजदूर से 1500 रुपये लूटे
Next articleबिहार में चक्रवात दिखाएगा असर, पटना मौसम केंद्र ने जारी किया बारिश का पूर्वानुमान