ज्य सरकार के विभिन्न विभागों में खाली पदों पर जल्द नियुक्तियां की जाएंगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विभागों की रिक्तयों को भरने की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश पदाधिकारियों को दिया है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को सामान्य प्रशासन और गृह विभाग की समीक्षा की और कई आवश्यक निर्देश दिये।

समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि जब से काम करने का मौका मिला है, राज्य में विकास के कई कार्य किए गए हैं। यहां व्यापार बढ़ा है। राज्य का बजट आकार दो लाख करोड़ रुपये से ऊपर हो गया है। सरकारी भवनों, सड़कों, पुल-पुलियों सहित कई आधारभूत संरचनाओं का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकारी भवनों, सड़कों, पुल-पुलियों का मेंटेनेंस हर हाल में अवश्य कराएं। मेंटेनेंस का कार्य विभाग द्वारा ही कराएं। इसके लिए जितने और अभियंताओं एवं कर्मियों की आवश्यकता हो उनकी बहाली कराएं।

tanishq-muzaffarpur

पुलिसकर्मियों के बेहतर प्रशिक्षण की व्यवस्था मुख्यमंत्री ने कहा कि हरेक थाने में कानून-व्यवस्था एवं अनुसंधान के लिए दो अलग-अलग विंग बनाए गए हैं, ताकि बेहतर ढंग से कार्यों का निष्पादन हो सके। पुलिसकर्मियों एवं पुलिस पदाधिकारियों के बेहतर प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, पुलिस महानिदेशक एसके सिंघल, अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग चैतन्य प्रसाद, वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. एस सिद्घार्थ, योजना एवं विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुणीश चावला, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव बी राजेंद्र, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि, बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम के महानिदेशक सह अयक्ष विनय कुमार उपस्थित थे।

विभागों में स्वीकृत पद व निजी क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों के दिए आंकड़े

सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव बी राजेंद्र ने समीक्षा बैठक में विभाग के कार्यों की अद्यतन जानकारी दी। साथ ही विभागवार कार्यरत कर्मचारियों और पदाधिकारियों तथा स्वीकृत पदों की जानकारी दी। वहीं गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद ने विभाग में किए जा रहे कार्यों की विस्तृत जानकारी मुख्यमंत्री को दी। साथ ही उन्होंने बिहार पुलिस के अंतर्गत स्वीकृत तथा कार्यरत बलों की अद्यतन विवरणी दी। वहीं, योजना एवं विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुणीश चावला ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से निजी क्षेत्रों में रोजगार सृजन के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।

Source : Hindustan

ramkrishna-motors-muzaffarpur

nps-builders

Genius-Classes

Previous articleबिहार में लग रहे स्मार्ट मीटर की शिकायतें ऑनलाइन दूर की जाएंगी
Next articleरूस ने पीओके को माना भारत का हिस्सा, नक्शा देख बौखलाएंगे चीन-पाकिस्तान