आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में नवरात्रि के अवसर पर माता के मंदिर को करोड़ों रुपयों के नए नोटों से सजाया गया. तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में नवरात्रि और दुर्गा पूजा के अवसर पर माता के मंदिरों को भव्य तरीके से सजाया जाता है. दोनों राज्यों में कन्यका परमेश्वरी देवी मां की भक्ति में लोग रुपये, सोना, चांदी जैसे तरह तरह की चीजें चढ़ावे के तौर पर देते हैं, नवरात्रि के अवसर पर इन रुपयों से मंदिर को आकर्षक रूप से सजाया गया है.

इसी तरह आंध्र प्रदेश के नेल्लूर जिले में भी कन्यका परमेश्वरी देवी की मंदिर में नए नोटों और सोना, चांदी से भव्य रूप से सजाया गया. नवरात्रि और दुर्गा पूजा के अवसर पर नेल्लूर शहर के स्टोन हाउसपेटा इलाके में स्थित कन्यका परमेश्वरी देवी की मंदिर में माता को धनलक्ष्मी के रूप में सजाया गया. इस दौरान माता को और माता के मंदिर को चढ़ावे के रूप में मिले नए नोटों से सजाया गया. इन नोटों की कीमत 5 करोड़ 16 लाख है, जिसमें 2000, 500रु, 200, 100, 50 और 10 रुपए के नए नोट शामिल हैं. इन नोटों से अलग-अलग तरीके के सुंदर फूल, तरह तरह के माला बनाए गए और माता को भव्य रूप से सजाया गया. नोटों से बनी इन सभी सजावटों को मंदिर की दीवारों पर लटकाया गया.

नोटों से की गयी भव्य सजावट

मंदिर में देवी की मूर्ति को और मंदिर की दीवारों को नए नोटों से सजाया गया. मंदिर की दीवार पर लटकटे इन नए-नए नोटों से मंदिर की छटा देखते ही बन रही है. कन्यका परमेश्वरी देवी मंदिरों की सजावट देखने आने वाले लोग इसकी भव्यता देखकर दंग रह हो रहे हैं. यहां मंदिर में हर साल लाखों रुपयों का चढ़ावा होता है और इन रुपयों से मंदिर को आकर्षक रूप से सजाया जाता है. इसी तरह तेलंगाना के महबूबनगर जिले में कन्यका परमेश्वरी देवी की मंदिर में 4.44 करोड़ कीमत के नोटों से सजाया गया. ऐसे ही जोगुलम्बा गद्दवाल जिले में भी कन्यका परमेश्वरी देवी की मंदिर में 3.51 करोड़ रुपये की नयी करेंसी से माता के मंदिर को सजाया गया.

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

krishna-motors-muzaffarpur

Previous articleस्नातक की तीसरी मेधा सूची आज होगी जारी, 33 हजार विद्यार्थियों को मिलेगा मौका
Next articleनिकाय चुनाव में BJP प्रत्याशी को मिला सिर्फ 1 वोट, घर मे ही 5 सदस्य थे