सूबे के बीएड कॉलेजों के लिए होने जा रही संयुक्त प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए स्नातक में 50 फीसदी अंक होना जरूरी है। राजभवन की ओर से तैयार रेगुलेशन में यह मानक तय कर लिया गया है। तय किया गया है कि प्रवेश परीक्षा फॉर्म भरने के लिए स्नातक के छात्रों को 50 फीसदी व इंजीनियरिंग के छात्रों को 55 फीसदी अंक जरूरी होगा। पहली बार होने जा रही बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा लेने की जिम्मेदारी ने नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी को दी गई है। इस संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए अलग से वेबसाइट भी तैयार की जाएगी। बीएड प्रवेश परीक्षा में अब उत्तर गलत होने पर अंक नहीं कटेंगे। पत्र में बीएड फी पर भी राजभवन ने स्पष्ट किया है। कहा गया है कि सरकार की ओर से एनसीटीई की गाइडलाइन के अनुसार फी तय होगी। जो फी तय होगी उसे सख्ती से लागू किया जाएगा। इस वक्त बीआरए बिहार विवि के 47 बीएड कॉलेजों में करीब पांच हजार सीटे हैं।

Jimmy Sales, Electronic Showroom, Muzaffarpur
TO ADVERTISE YOUR BRAND OR BUISNESS CALL OR WHATSAPP US AT 97076-42625

Input : Live Hindustan

Previous articleएमआईटी के 17 छात्रों पर कार्रवाई का आदेश जारी
Next articleबिहार कैबिनेट की बैठक संपन्‍न, 16 एजेंडों पर लगी मुहर, छात्रों के लिए बड़ी घोषणा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here