बीते 17 नवंबर को बेंगलुरु में एक शख्स का शव जेपी नगर इलाके में सड़क के किनारे पड़ा मिला था। इसको लेकर पुलिस ने एक सनसनीखेज खुलासा किया हैं। पुलिस का कहना हैं की 17 नवंबर को जिस शख्स का शव मिला था वो एक 67 वर्षीय कारोबारी था। उसकी मौत गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स के दौरान एपिलेप्टिक अटैक यानी ब्रेन स्ट्रोक की वजह से हुई थी. जिसके बाद उसकी गर्लफ्रेंड और उसके पति ने कारोबारी की लाश को ठिकाने लगाते हुए एक प्लास्टिक बैग में भऱकर सड़क पर फेंक दिया था।

पुलिस ने फोन कॉल की जांच के आधार पर किया खुलासा

पुलिस ने बताया की कारोबारी की फोन डिटेल और लोकेशन चेक करने पर पता लगा की मृतक कारोबारी अपनी गर्लफ्रेंड के घर पर था। एक पुलिस अधिकारी ने गुरुवार को कहा की, फिलहाल इस पूरे मामले की जांच जारी हैं। इसलिए कारोबारी और उसकी गर्लफ्रेंड की पहचान को अभी उजागर नहीं किया जा रहा हैं। जेपी नगर पुलिस थाने के अधिकारी ने कहा, ’67 वर्ष के कारोबारी के 35 साल की एक घरेलू महिला से संबंध था। 16 नवंबर को वह शाम को 5 बजे उसके घर पहुंचा था। यहीं पर दोनों शारीरिक संबंध बनाने लगे और इस दौरान कारोबारी की मृत्यु हो गई। इससे उसकी गर्लफ्रेंड घबरा गई और सोचा की यदि इस मौत के बारे में किसी को पता लगता है तो समाज में नाम खराब होगा।’

यह भी पढ़ें : फेसबुक के जरिये असम की लड़की को मुजफ्फरपुर के लड़के से हुआ प्यार और शादी, अब युवक ने पहचानने से किया इनकार

बहू से मिलने की बात कहकर घर से निकला था सख्स

पुलिस अधिकारी ने आगे कहा कि डर की वजह से महिला ने अपने पति और भाई को बुलाया। इन लोगों ने पहुंचकर कारोबारी के शव को एक प्लास्टिक बैग में भरा और जेपी नगर में ही एक सुनसान इलाके में सड़क पर फेंके आए। वहीं पुलिस अधिकारी का कहना हैं की जब हमने इस मामले में कारोबारी के परिवार वालों से पूछा तो उन्होंने बताया की वे अपनी बहू से मिलने की बात कहकर घर से निकले थे। लेकिन जब वह घर नहीं लौटे तो थाने मे लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गई। शख्स कई बीमारियों से भी पीड़ित था। पुलिस का कहना हैं की फिलहाल इस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार हैं, जिससे यह साबित हो सकेगा कि महिला का दावा सही हैं या नहीं।

source: Hindustan

Previous articleलालू और नीतीश के राज में कोई फर्क नहीं, जंगलराज पिछले दरवाजे से घुस रहा हैं : प्रशांत किशोर
Next articleहर घर गंगा जल का आज सीएम करेंगे उद्घाटन : बोधगया के 6 हजार और गया के 60 हजार घरों मे होगी गंगाजल की सप्लाई