18 साल से राष्ट्रीय चैंपियनशिप रणजी में वापसी की लड़ाई लड़ रहे बिहार को आखिर खुशखबरी मिल गयी है। सौरभ गांगुली की अगुवाई वाली भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की तकनीकी समिति ने सर्वसम्मति से बिहार को फिर से रणजी ट्रॉफी 2018-19 सत्र में शामिल करने की सिफारिश कर दी है।

bihar, ranji trophy

बीसीसीआई की तकनीकी समिति ने अपनी बैठक में बिहार को रणजी ट्रॉफी 2018-19 सत्र शामिल करने के अलावा और भी कई सिफारिशें की हैं जिसमें सबसे महत्वपूर्ण रणजी ट्रॉफी में प्री क्वार्टरफाइनल की शुरुआत है। तकनीकी समिति ने अपनी सिफारिश में कहा कि रणजी ट्रॉफी में 2018-19 सत्र में चार ग्रुप होंगे और मैच होम एंड अवे आधार पर खेले जाएंगे जबकि नए सत्र से प्री क्वार्टरफाइनल की शुरुआत हो जाएगी

बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने एक बयान में बताया कि तकनीकी समिति ने सर्वसम्मति से बिहार को रणजी ट्राफी 2018-19 सत्र में शामिल करने की सिफारिश की है। हालांकि समिति को लगता है कि सुप्रीम कोर्ट के 18 जुलाई 2016 के फैसले के मद्देनजर पूवोर्त्तर के एसोसिएट और सम्बद्ध सदस्यों पर भी विचार किया जाना चाहिए। तकनीकी समिति की सिफारिशों को बीसीसीआई का संचालन देख रही प्रशासकों की समिति (सीओए) के पास भेजा जाएगा और फिर इसे बीसीसीआई की आम सभा में मंजूरी दी जायेगी।

Input : Hindustan

Previous articleआर्म्स एक्ट में निलंबित SSP विवेक कुमार पर हो सकती है आज बड़ी कार्रवाई
Next articleनिलंबित SSP विवेक कुमार की खुल रही पोल, जानिए कैसे बना ली थी अकूत संपत्ति

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here