सावधान! इस एक बदलाव से रद्द हो सकती है आपके कार और बाइक की RC

 सुप्रीम कोर्ट ने मॉडीफाइड कार और बाइक को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट के फैसले के मुताबिक अब कार की स्टाइल और लुक में बड़ा फेरबदल करने पर वाहन का रजिस्ट्रेशन नहीं होगा। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने मोटर वाहन अधिनियम की धारा 52 (1) का हवाला देते हुए कहा कि, किसी भी वाहन का कंपनी की तरफ से बताए गए स्पेसिफिकेशन्स को पूरा करना जरूरी है। अब इस पूरे मसले को आसान भाषा में समझते हैं,

क्या करने पर नहीं होगा रजिस्ट्रेशन

मान लीजिए आपने किसी कार या बाइक का विज्ञापन देखा। अब आप इस बाइक या कार को किसी ऐसी जगह से खरीद रहे हैं, जहां इसकी डिजाइन और बॉडी को बदल दिया गया है। ऐसे में इस वाहन का अब रजिस्ट्रेशन नहीं होगा। अगर वाहन के किसी भी फीचर में बड़ा बदलाव किया गया है, तो नए फैसले के मुताबिक इसका रजिस्ट्रेशन नहीं होगा।

क्यों नहीं होगा रजिस्ट्रेशन

अगर आपसे पूछा जाए कि आप किसी बाइक या कार को क्यों खरीदते हैं, तो आपका जवाब होगा इसके स्पेसिफिकेशन और कीमत के कारण। ये स्पेसिफिकेशन्स और कीमत कंपनी तय करती है। कंपनी इन स्पेसिफिकेशन्स की जिम्मेदारी लेती है, जिसके आधार पर आपसे कंपनी वादा करती है। अब अगर इस कार या बाइक कि किसी बड़े फीचर को मॉडिफाई (बदल) दिया जाए, तो इसकी कंपनी जिम्मेदारी नहीं लेगी। यानी अब यह वो वाहन नहीं रहा जिसको कंपनी बेच रही है। उदाहरण के लिए अगर आपने पल्सर की बाइक खरीदी और इसका फ्रंट हीरो की बाइक जैसा कर दिया तो यह पल्सर की बाइक रही कहां?

क्या है खतरा?

दरअसल कंपनी जब किसी बाइक या कार को लॉन्च करती है, तो उसकी सुरक्षा और स्पेसिफिकेशन्स को लेकर कई जरूरी टेस्टिंग होती है। अब अगर वाहन का स्पेसिफिकेशन बदल दिया जाए, तो उसकी टेस्टिंग तो हुई नहीं, ऐसे में इस वाहन का इस्तेमाल करना खतरनाक हो सकता है।

हल्के बदलाव से नहीं पड़ेगा असर

अगर आपके कार या बाइक में हल्का-फुल्का बदलाव हुआ है, तो इसके रजिस्ट्रेशन में किसी तरह की परेशानी नहीं आएगी।

क्यों किया जाता है मॉडिफिकेशन

बाइक या कार को किसी खास डिजाइन जैसा बनाने के लिए मॉडिफिकेशन किया जाता है।

मॉडिफाई गाड़ियों का क्या होगा?

रजिस्ट्रेशन वाली मॉडिफाई गाड़ियों का क्या होगा इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कुछ नहीं कहा। हालांकि, उम्मीद की जा रही है कि इन गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन रद्द हो सकता है।

Input: Dainik Jagran

159 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
159 Shares