नए विधानसभा भवन निर्माण में अनियमितता पर कटघरे में अभियंता, होगी जांच

400 करोड़ के लागत से बने बिहार विधानसभा के नए भवन में उद्घाटन के बाद से ही रिपेयरिंग की जरूरत पड़ने लगी है. 2 साल पहले खुद इसका उद्घाटन सीएम श्री नीतीश कुमार द्वारा किया गया था. बड़े पैमाने पर इस भवन के निर्माण में अनियमितता बरती गई है। जिसके लिए लोक चेतना दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता शकिन्द्र कुमार यादव ने परिवाद दायर कर भवन निर्माण मामले में बरती गई घोर अनियमितता, प्रयुक्त हुए दोयन दर्जे की सामग्रियों के गुणवत्ता की जांच, ससमय भौतिक निरीक्षण न करने वाले अभियन्ताओं सहित दोषी कर्मियों को चिन्हित कर कार्रवाई करने की शिकायत की है।

भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजारी ने भी माना कि जिस संवेदक ने इस काम को लिया था उसने गुणवत्ता का ख्याल नहीं रखा. इसमें अनियमितता बरती गई है और मामले की जांच होगी. मंत्री के इस बयान पर शकिन्द्र कुमार यादव ने कहा कि जांच के नाम पर खानापूर्ति करने की साजिश है। जब मुख्यालय में ये हाल है अन्य जगह के स्थिति क्या होगी। उन्होंने समय रहते न तो कोई ठोस निगरानी करवाई और न ही खुद ध्यान दिया जिस कारण 400 करोड़ की लागत से बने विधानसभा भवन की यह स्थिति है।

40 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
40 Shares