बिहारी व्यंजन: दाल भरी पूरी खाएंगे तो बस खाते ही रह जाएंगे

40

बिहार में कोई भी विशेष पर्व हो दाल भरी पूरियां जरूर बनती हैं। बेहद कुरकुरी और खस्ता पूरियां जरूर खाते हैं। दाल भरी पूरियां बिहार की खास पहचान है। तो आईये आप भी जानिए इसे बनाने की विधि और बनाईये गर्मा-गर्म खस्ता दाल भरी पूरियां।  अगर आप भी हैं काने के शौकीन तो इसे बनाएं और स्वाद लेकर खाएं।

आवश्यक सामान: पूरी के आटे के लिये • गेहूं का आटा – 400 ग्राम • तेल – 1 टेबल स्पून • नमक – स्वादानुसार भरावन के लिए सामानः
• धूली मूंग की दाल – 100 ग्राम • तेल – 1 टेबल स्पून • हींग – 1 पिंच • जीरा – आधा छोटी चम्मच • धनियां पाउडर – 1 छोटी चम्मच
• लाल मिर्च – एक चौथाई छोटी चम्मच • नमक – स्वादानुसार • पूरियां तलने के लिये तेल

विधि – दाल को धोकर 2 घंटे के लिये पानी में भिंगो दें। आटे को छान कर एक बर्तन में निकाल लें। आटे में नमक और तेल डाल कर मिला दें। अब आटे को पानी की सहायता से नरम पूरी का आटा गूंथ लें। गूंथे हुये आटे को आधा घंटे के लिये ढक कर रख दें। दाल को पानी से निकाल कर, बिना पानी डाले पीस लें। छोटी कढ़ाई में 1 टेबल स्पून तेल डाल कर गरम करें. तेल में हींग और जीरा डाल दें. जीरा भुनने पर धनियां पाउडर डालें। अब दाल, नमक और लाल मिर्च डाल दें। दाल को चमचे से चलाकर 5-6 मिनिट तक भूनें। दाल की पिठ्टी पूरी में भरने के लिये तैयार है।

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम करें. आटे से छोटी छोटी लोइया तोड़कर बना लें। एक लोई को हाथ से बढ़ायें। उसमें आधा छोटी चम्मच दाल रखें और बन्द कर दें। अब इस दाल भरी लोई को 3 -4 इंच के व्यास में बेले और गरम तेल में डाल दें।

पूरी के फूलने पार पलटें और ब्राउन होने तक तलें। पूरी को प्लेट में निकाल कर रखें और दूसरी पूरी तेल में डाल कर तलें, एक एक करके सारी पूरियां तल लें। दाल की पूरियां तैयार हैं। गरमा -गरम दाल की पूरियां मटर पनीर की सब्जी, चटनी, रायता। अपनी मन पसन्द सब्जी के साथ परोसिये और खाईये।