बिहार युनिर्वसिटी में स्नातक टीडीसी पार्ट-3 का परीक्षा परिणाम पिछले साल 31 दिसम्बर को ही जारी हो गया था मगर अब तक कॉलेजों में ओरिजिनल डोक्युमेंट नहीं पहुंचा है, जिस कारण बच्चों को अन्य जगहों में एडमिशन लेने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इग्नु के भी जनवरी सत्र में एडमिशन की प्रक्रिया शुरु हो गयी है मगर बिहार युनिर्वसिटी की लेट लतीफी के कारण छात्र-छात्राओं को एडमिशन में परेशानी आ रही है।

 

परीक्षा के कारण रुका है काम

उधर कॉलेजों में परीक्षाएं चल रही है, जिस कारण से वहां भी काम रुका हुआ है।

ऐसे में स्टूडेंट्स का साल बर्बाद होते हुए दिख रहा है क्योंकि जब तक कॉलेज और युनिर्वसिटी की आंखें नहीं खुलेंगी तब तक छात्र-छात्राओं का एडमिशन नहीं हो पाएगा। ऐसे भी बिहार युनिर्वसिटी अपनी लेट-लतीफी के कारण मशहूर है और यह बात किसे से छिपी नहीं है।

लाए गति ताकि ना हो परेशानी

ऐसे में यह परीक्षा नियंत्रक के साथ-साथ कर्मचारियों का भी काम है कि वे सेशन को देखते हुए और अन्य कॉलेजों में एडमिशन की प्रक्रिया को देखते हुए अपने कार्य में गति लाए। आपको बताते चलें कि इग्नु में एडमिशन की अंतिम तारीख 15 फरवरी है, जो कि पहले 31 जनवरी थी।