सुशांत सिंह के पिता की तरफ से दर्ज पूरा एफआईआर जानिए, धोखेबाज रिया और उसके परिवार वालों ने आखिर क्या किया?

283

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उनके पिता कृष्ण किशोर सिंह ने पटना के राजीव नगर थाने में 6 पन्ने की एफआईआर दर्ज कराई है। सुशांत के पिता केके सिंह की तरफ से दर्ज कराई गई एफआईआर फर्स्ट बिहार के पास है। हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर सुशांत के पिता ने इस एफआईआर में रिया चक्रवर्ती और उसके परिजनों के ऊपर क्या आरोप लगाए हैं। पिता के के सिंह ने 25 जुलाई को राजीव नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई है जिसमें रिया चक्रवर्ती के अलावे उसके परिजन इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरिंडा, श्रुति मोदी और अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी बेईमानी बंधक बनाकर रखने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कराया गया है.

सुशांत सिंह राजपूत के पिता के के सिंह ने जो एफआईआर दर्ज कराई है उसमें अपने पूरे परिवार के बारे में जानकारी दी है। केके सिंह ने कहा है कि मेरी चार बेटियां हैं और एक बेटा था। मेरी पत्नी साल 2002 में गुजर गई और मेरे बेटे सुशांत सिंह राजपूत को उसकी मां से काफी लगाव था। मेरा बेटा बहुत ही ज्यादा भावनात्मक था और मुझे यह मेरी पत्नी के स्वर्गवास के बाद महसूस हुआ। सुशांत ने फिल्म जगत में जाने-माने एक्टर के तौर पर अपनी पहचान बनाई और उन्होंने काई पो छे, ब्योमकेश बख्शी, एम एस धोनी, केदारनाथ, छिछोरे जैसी सुपरहिट फिल्में की मेरा बेटा 2019 से अभिनय जगत में बुलंदियों पर था।

केके सिंह ने अपनी तरफ से दर्ज एफआईआर में आगे लिखा है कि फिल्म जगत में काम करने के दौरान रिया चक्रवर्ती नाम की एक लड़की अपने परिजन और अन्य साथी के साथ सोची समझी साजिश के तहत मेरे बेटे सुशांत सिंह से जान पहचान बढ़ाने लग गई। जिससे वह सुशांत सिंह के अच्छे संपर्क का फायदा उठाकर अपने आप को अभिनय जगत में स्थापित कर पाए सुशांत सिंह के करोड़ों रुपए पर अपना हाथ साफ कर सके यही उसकी प्लानिंग थी। इस षड्यंत्र रिया और उसके परिजन इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती ने मेरे बेटे से काफी नजदीकियां बढ़ा ली और सभी मेरे बेटे के हर मामले में हस्तक्षेप करने लगे। उसके उपरांत मेरा बेटा जहां रहा था वह घर जाकर छुड़वा दिया गया कि इस घर में भूत-प्रेत है। मेरे बेटे सुशांत को इन लोगों ने मुंबई एयरपोर्ट के नजदीक एक रिसोर्ट में ले जाकर ठहरा दिया जहां पर रिया और उसका सारा परिवार मेरे बेटे के साथ रहे और लगातार मेरे बेटे को इन सभी ने बार-बार कहा कि तुम बहकी बहकी बात करते हो। तुम्हारे दिमाग में कोई दिक्कत है तो मैं इलाज की जरूरत है इसलिए किसी अच्छे डॉक्टर से तुम्हारा इलाज शुरू करवाते हैं।

Input : First Bihar