ABVP ने प्रशांत किशोर से लिया ‘बदला’, LNMU में हार गए नीतीश के महायोद्धा PK

94

LNMU में लहराया भगवा झंडा, मिथिला विवि छात्र संघ चुनाव में सभी सीटों पर ABVP का कब्जा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव 2018-19 के परिणाम आ चुके हैं। सभी पदों पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दोबारा परचम फहराने में सफल रही। अध्यक्ष पद पर मधुमाला कुमारी अपने निकटतम प्रतिद्वंदी संदीप कुमार चौधरी को 18 मतों से पराजित कर विजयी हुई। मधुमाला कुमारी को 66 मत मिले। जबकि, संदीप कुमार चौधरी को 48 मत मिले। उपाध्यक्ष पद पर विजयी राजा कुमार को 71 मत प्राप्त हुए। जबकि, उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी पुरुषोत्तम कुमार चौधरी को 51 मत प्राप्त हुए। महासचिव पद पर निर्वाचित उत्सव कुमार पराशर को 68 मत मिले। जबकि, उनके निकटतम प्रतिद्वंदी अन्नु कुमारी को 53 मत प्राप्त हुए। संयुक्त सचिव पद पर ऋषभ कुमार चौधरी 82 मत प्राप्त कर विजयी घोषित हुए। जबकि, उनके निकटतम प्रतिद्वंदी अख़लाक़ अहमद को 48 मत प्राप्त हुए। कोषाध्यक्ष पद पर विजयी मनीष कुमार को 65 मत मिले। जबकि, उनके निकटतम प्रतिद्वंदी साई कुमार निरुपम को 57 मत प्राप्त हुए। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी प्रो. चंद्रभानु प्रसाद सिंह ने उक्त जानकारी देते हुए कहा सुबह 9 बजे से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में नरगौना परिसर स्थित प्रबंधन भवन में मतदान प्रारंभ हुआ। कुल 210 मतदाताओं में से 196 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। दण्डाधिकारी एवं पुलिस बल के साथ ही पर्यवेक्षकों की सक्रियता मतदान से मतगणना तक बनी रही। निर्वाची पदाधिकारी प्रो.अजीत कुमार सिंह, मतगणना पदाधिकारी प्रो॰ रतन कुमार चौधरी की पूरी मतगणना प्रक्रिया पर कड़ी नजर थी।

एलएन मिथिला यूनिवर्सिटी के शैद्वाणिक सत्र 2018-19 का चुनाव कई मायने में महत्वपूर्ण रहा। विश्वविद्यालय स्तर पर आॅफिस बियरर के लिए हुए चुनाव में एक बार फिर से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पैनल के सभी प्रत्याशियोंे के विजयी होने से छात्रों सहित कई संगठनों का वजूद भी बच गया है। सत्ता पक्ष के एक दल ने चुनाव से पहले तिकड़मकर जिस तरह से यहां के काउंसिल मेंबर को प्रलोभन देकर पक्ष में करने का प्रयास किया, उस पर उन्हें कामयाबी नहीं मिली। इससे लोकतंत्र तो मजबूत हुआ ही साथ ही मिथिला के होनहार युवा भी चारित्रिक दोष लगने से बच गए। काउंसिल मेंबर का संख्या बल साफ तौर अभाविप के पक्ष में था। फिर भी शहर के सर्किट हाउस में हाई वोल्टेज ड्रामा कर जिस तरह से इस संख्या बल को प्रलोभन देकर तोड़ने का प्रयास किया गया, उससे आम छात्र चिंतित हो चुके थे। ऐसे लोगों को लगने लगा था कि कहीं राजनीति की प्राथमिक पाठशाला में ही इन युवाओं को भारतीय राजनीति की मानसिकता प्रभावित न कर दे।

नगर विधायक सह प्राक्कलन समिति के सभापति संजय सरावगी ने एलएनएमयू के छात्र संघ चुनाव में सभी पांचों सीटों पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रों को विजय होने पर बधाई दी है। उन्होंने कहा कि एलएन मिथिला यूनिवर्सिटी में यह राष्ट्रवादी शक्ति की जीत है। इससे विवि कैंपस में एकता और भाईचारे का माहौल कायम होगा। मैं भी छात्र जीवन में करीव 15 सालों तक अभाविप से जुड़ा रहा हूं। इससे अब अंदाजा लग रहा है कि विवि में शिक्षा का वातावरण बनेंगा। वहीं भाजयुमो के अध्यक्ष डॉ. निर्भय ने भी इस जीत पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बधाई दी है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने जिला प्रशासन, विश्वविद्यालय के पदाधिकारियों,पर्यवेक्षकों तथा पत्रकारों को स्वच्छ एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने में सहयोग धन्यवाद दिया है। उन्होंने कुलपति प्रो. एसके सिंह को विशेष रूप से उनके कुशल एवं सक्षम नेतृत्व में छात्र संघ चुनाव संपन्न कराने के लिए बधाई दी है।

जैसा हमलोगों ने पहले से सोचा था बिलकुल उसी स्थिति में मतदान से लेकर मतगणना तक स्वच्छ, निष्पक्ष एवं पारदर्शितापूर्ण माहौल में संपन्न हुआ। इसके लिए सबसे अधिक हमारे छात्र बधाई के पात्र हैं। साथ ही जिस तत्परता के साथ जिला व पुलिस प्रशासन ने इसमें सहयाग दिया है वह भी प्रशंसनीय है। उम्मीद है नए छात्र संघ के पदाधिकारी विवि में शैक्षणिक माहौल बनाने में सहयोगी बनेंगे। -प्रो. सुरेंद्र कुमार सिंह, कुलपति, एलएनएमयू

विवि में चुनाव संबंधी सभी कार्य शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न होना बड़ी खुशी की बात है। छात्र संघ चुनाव में भाग लेने वाले हारे या जीते सभी छात्र बधाई के पात्र हैं। विवि प्रशासन को इन लोगों से काफी उम्मीद है। उच्च शिक्षा की व्यवस्था में सुधार के लिए इनका सहयोग मिलेगा। जीते हुए छात्र चुनाव में भाग लेने वाले सभी सदस्यों से समन्वय बैठाकर विवि में शैक्षणिक माहौल कायम करने में मदद करेंगे। छात्र संघ चुनाव का उद्देश्य इसी से पूरा होगा। -कर्नल निशीथ कुमार राय, कुलसचिव, एलएनएमयू, दरभंगा।