Desk: बिहार में इंटरनेट मीडिया पर सरकार, मंत्री, सांसद, विधायक या सरकारी अफसरों के खिलाफ आपत्तिजनक या अभद्र टिप्पणी करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। छवि धूमिल करने के आरोप में पोस्ट लिखने वालों पर आइटी एक्ट की धाराओं के तहत एफआइअर दर्ज किया जाएगा।

इससे संबंधित पत्र आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के एडीजी नैयर हसनैन खान ने सभी विभागीय प्रधान सचिवों व सचिवों को जारी किया है। इसपर विपक्ष मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर हो गया है। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार हिटलर के पद-चिह्नों पर चल रहे हैं।

तेजस्‍वी ने लिखा: हिटलर के पद-चिह्नों पर चल रहे नीतीश

नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने अपने ट्वीट में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को हिटलर के पद-चिह्नों पर चलने वाला बताते हुए लिखा है कि बिहार में प्रदर्शनकारी चिह्नित धरना स्थल पर भी धरना-प्रदर्शन नहीं कर सकते तथा

सरकार के खिलाफ लिखने पर जेल की हवा खानी पड़ेगी। यहां आम आदमी अपनी समस्याओं को लेकर विपक्ष के नेता से नहीं मिल सकता। तेजस्‍वी आगे लिखते हैं कि नीतीश कुमार थक गए हैं, लेकिन वे कुछ तो शर्म करें।

इससे संबंधित पत्र आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के एडीजी नैयर हसनैन खान ने सभी विभागीय प्रधान सचिवों व सचिवों को जारी किया है। इसपर विपक्ष मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर हो गया है। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार हिटलर के पद-चिह्नों पर चल रहे हैं।

तेजस्‍वी ने लिखा: हिटलर के पद-चिह्नों पर चल रहे नीतीश

नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने अपने ट्वीट में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को हिटलर के पद-चिह्नों पर चलने वाला बताते हुए लिखा है कि बिहार में प्रदर्शनकारी चिह्नित धरना स्थल पर भी धरना-प्रदर्शन नहीं कर सकते तथा

सरकार के खिलाफ लिखने पर जेल की हवा खानी पड़ेगी। यहां आम आदमी अपनी समस्याओं को लेकर विपक्ष के नेता से नहीं मिल सकता। तेजस्‍वी आगे लिखते हैं कि नीतीश कुमार थक गए हैं, लेकिन वे कुछ तो शर्म करें।

ईओयू के एडीजी ने जारी किया पत्र

विदित हो कि ईओयू के एडीजी नैयर हसनैन खान ने सभी विभागों के प्रधान सचिवों एवं सचिवों को पत्र लिखा है कि अगर उनके विभाग में सरकार, मंत्री, सांसद, विधायक या सरकारी अफसरों के खिलाफ आपत्तिजनक या अभद्र टिप्पणी का मामला सामने आता है, तो ईओयू को अवगत कराएं, ताकि दोषियों पर जांच के बाद कार्रवाई की जा सके। ईओयू साइबर अपराध की भी नोडल एजेंसी है। इंटरनेट मीडिया पर अश्लीलता, साइबर बुलिंग, साइबर उत्पीड़न आदि के मामले भी ईओयू के दायरे में आते हैं। ईओयू पर भी भ्रामक या आपत्तिजनक पोस्ट पर नजर रखने का दायित्‍व है।

इंटरनेट मीडिया के गलत इस्तेमाल पर होगी कार्रवाई
ईओयू के एडीजी एनएच खान कहते हैं कि इंटरनेट मीडिया का गलत इस्तेमाल साइबर अपराध है। मंत्री, सांसद, विधायक या सरकारी पदाधिकारियों के संबंध में अभद्र, आपत्तिजनक एवं भ्रामक टिप्पणी की शिकायत मिलने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।