Patna: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने शुक्रवार की देर शाम नीट यूजी का रिजल्ट जारी कर दिया है। बिहार में प्रथम स्थान पटना के पृथ्वी राज सिंह ने प्राप्त किया है। उसकी ऑल इंडिया रैंक 35 है। 720 अंक में पृथ्वी ने 705 अंक प्राप्त किया है। नवादा के विक्रम 144वीं, मुजफ्फरपुर के बिलाल 155वीं, पटना की तनिशा दयाल ने 210वीं, बिहारशरीफ के शुभम ने 307वीं तथा पटना की अर्पणा पांडेय 397वीं रैंक प्राप्त की है।

नीट यूजी की सीनियर डायरेक्टर साधना पराशर ने बताया कि बिहार के 55.79 फीसद बच्चे क्वालीफाई कर गए हैं। परीक्षा में शामिल होने के लिए 95 हजार 150 अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन किया था। जिसमें 83 हजार 38 परीक्षा में शामिल हुए और 46 हजार 327 विद्यार्थी क्वालीफाई किए हैं। इसकी रैंक के आधार पर देश के निजी व सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस कोर्स में नामांकन होगा। राज्य के सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेजों में नामांकन के लिए बीसीईसीई की वेबसाइट पर क्वालीफाई अभ्यर्थियों को रजिस्ट्रेशन करना होगा।

अभ्यर्थी बढ़े, रिजल्ट गिरा

पिछले शाम नीट यूजी की परीक्षा में शामिल होने के लिए 83 हजार 814 अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन किया था। परीक्षा में 76536 शामिल हुए थे। जिसमें 44 हजार 92 क्वालीफाई हुए थे। पिछले साल 57.61 फीसद विद्यार्थी क्वालीफाई हुए थे। पिछले साल की तुलना में इस बार छह हजार 502 अभ्यर्थी अधिक शामिल हुए। लेकिन रिजल्ट 1.82 फीसद कम हुआ।

एनटीए की वरीय निदेशक डॉ. साधना पराशर ने बताया कि 13 सितंबर और 14 अक्टूबर की परीक्षा में शामिल सभी अभ्यर्थियों का रिजल्ट 16 अक्टूबर को जारी कर दिया गया है। परीक्षा में शामिल होने के लिए 15 लाख 97 हजार छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया था। इनमें से 90 फीसद अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हैं। रिजल्ट के लिए वेबसाइट (www.ntaneet.nic.in) और (www.nta.ac.in) पर लिंक जारी किया जाएगा। परिणाम के आधार पर नीट यूजी में प्राप्त स्कोर के आधार पर सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस कोर्स में नामांकन होगा।

पटना के 178 केंद्रों पर ली गई थी परीक्षा

बताते चलें कि 13 सितंबर को नीट की परीक्षा आयोजित हुई थी। पटना के 178 केंद्रों पर परीक्षा ली गई थी। राजधानी के अलावा गया में भी 14 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। राजधानी में 72,361 और गया में 6,599 परीक्षार्थी ने नामांकन कराया था, जिसमें 90 प्रतिशत ने परीक्षा दी थी।