Patna: आजादी के बाद पहली बार सोशल डिस्टेंस में गणतंत्र दिवस की परेड होगी। संक्रमण काल में मनाया जाने वाला यह पहला ऐसा दिवस होगा जब कोविड प्रोटोकॉल के साथ राष्ट्रीय गरिमा का ध्यान रखकर समारोह का आयोजन किया जाएगा। परेड में शामिल होने वालों की कोविड जांच पहले ही करा ली जाएगी। शुक्रवार को गणतंत्र की परेड को लेकर अधिकारियों की बैठक हुई है जिसमें कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर कार्यक्रम कैसे किया जाए, इसपर मंथन किया गया है। प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल, आईजी संजय कुमार, डीएम चंद्र शेखर सिंह, एसएसपी उपेंद्र शर्मा, एसपी ट्रैफिक डी अमरकेश, एसपी सिटी विनय तिवारी ने रणनीति तय की है।

गांधी मैदान में होगा आयोजन, प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग

शुक्रवार को अधिकारियों की बैठक में यह तय हुआ है कि मुख्य कार्यक्रम में गांधी मैदान में होगा। इस दौरान 10 झांकियों की प्रस्तुति होगी। इसके लिए 11 जनवरी से परेड की टुकड़ियों का पूर्वाभ्यास भी शुरू हो जाएगा। कोविड प्रोटोकॉल एवं राष्ट्रीय गरिमा को लेकर हर तरफ से मंथन किया गया। यह तय किया गया है कि समारोह में कोरोना योद्धा शिरकत करेंगे। ऐसे लोगों को ससम्मान बैठाने के लिए अलग दीर्घा बनाई जाएगी। यातायात प्रबंधन, वाहनों की पार्किंग, बैरिकेडिंग, अतिथियों के बैठने की व्यवस्था, साफ सफाई, प्राथमिक चिकित्सा सहित कई बिंदुओं की तैयारी पर चर्चा की गई है।

10 झांकियों की होगी प्रस्तुति, कोरोना की भी होगी झांकी

गणतंत्र दिवस पर गांधी मैदान में जिन 10 झांकियों की प्रस्तुति की जाएगी उसमें कला संस्कृति एवं युवा विभाग, पर्यटन निदेशालय, भवन निर्माण विभाग, कृषि विभाग, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, महिला विकास, निगम एवं जीविका, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग, जल संसाधन विभाग एवं लघु सिंचाई विभाग, उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान पटना एवं उद्योग विभाग शामिल है। इन झांकियों को बेहतर रूप में ससमय तैयार करने तथा विभिन्न विभागों के बीच समन्वय स्थापित करने के लिए उप विकास आयुक्त पटना रिची पांडे को नोडल पदाधिकारी नामित किया गया है।

परेड को लेकर हो रही तैयारी

11 जनवरी से होगा परेड का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। परेड में शामिल होने वाली टुकड़ियों सीआरपीएफ, एसएसबी, आइटीबीपी, सीआईएसएफ, जिला सशस्त्र बल, बीएमपी, होमगार्ड, एनसीसी, आर्मी, स्काउट, फायर ब्रिगेड शामिल हैं। इसके नोडल पदाधिकारी के रूप में सार्जेंट मेजर कार्य करेंगे। परेड स्थल पर पूर्वाभ्यास के दौरान मेडिकल टीम, पेयजल, शौचालय आदि की समुचित व्यवस्था करने का निर्देश दिया। परेड की टुकड़ियों में शामिल व्यक्ति का कोविड टेस्ट कराने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया ।

कोविड प्रोटोकॉल का पालन बड़ी चुनौती

गणतंत्र दिवस पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना बड़ी चुनौती है। अधिकारियों ने कहा कि समारोह में कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है। इसके तहत थर्मल स्कैनिंग मास्क का प्रयोग सैनिटाइजर का प्रयोग सोशल डिस्टेंस का पालन आदि का ध्यान रखा जाएगा।