भक्ति रस में डूबे लालू के लाल, 7 दिनों तक भागवत कथा सुनेंगे तेजप्रताप , वृंदावन से आया पंडित

पटना. राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े लाल तेज प्रताप यादव ( Tej Pratap Yadav) राजनीति के साथ-साथ अपने अलग अंदाज के लिए अक्सर चर्चा में रहते हैं.  एक तरफ जहां नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ( Tejaswi yadav) ने नीतीश सरकार के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर मोर्चा खोल रखा है, वहीं दूसरी तरफ उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव राजनीति के साथ-साथ भक्ति रस में सराबोर हैं.

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और वर्तमान में हसनपुर से विधायक तेज प्रताप यादव भगवान कृष्ण की भक्ति में डूबे नजर आ रहे हैं. उनके सरकारी आवास पर गुरुवार से अगले 7 दिनों तक भागवत कथा (Bhagwat Katha) का आयोजन किया गया है जिसकी विधिवत शुरुआत तेज प्रताप यादव ने की है.

आपको बता दें भागवत कथा के लिए विशेष तौर पर वृंदावन (Vrindavan) से भागवत कथा वाचक पटना पहुंचे हैं जो अगले 7 दिनों तक संपूर्ण भागवत कथा करेंगे, हर दिन शाम के वक्त इस कथा में भगवान श्री कृष्ण के जीवन से जुड़ी हुई अलग-अलग प्रसंगों को कथा और कीर्तन के माध्यम से सुनाया जाएगा. गौरतलब है कि इसके पहले भी तेज प्रताप यादव कवि भगवान शिव की भक्ति में डूबे नजर आए तो कभी वृंदावन की गलियों में कृष्ण भक्ति में.

वर्ष 2021 की शुरुआत के पहले तेज प्रताप यादव जहां वृंदावन में थे, वहीं तेज प्रताप यादव साल शुरू होते एक बार फिर वृंदावन पहुंच गए. यमुना नदी के किनारे बृज की गलियों में तेज प्रताप की तस्वीरें और वीडियो वायरल हुए थे. तेजप्रताप यादव  खुद को कृष्ण बताते रहे हैं.  बिहार की राजनीति में तेजस्वी और तेजप्रताप की जोड़ी कृष्ण अर्जुन की तरह उनके द्वारा दिखाई जाती रही है.

तेज प्रताप का बांसुरी वादन से लेकर के मंच पर शंख बजाना लालू के लाल के समर्थकों के बीच खासा लोकप्रिय रहा है. ऐसे में एक बार फिर तेज प्रताप यादव पटना में अपने आवास पर भागवत कथा के आयोजन के साथ भगवान कृष्ण के भक्ति में पूरी तरीके से सराबोर नजर आ रहे हैं.