गूगल प्ले स्टोर ने अपनी पॉलिसी में बदलाव करते हुए एक बड़ा कदम उठाने जा रहा हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, गूगल, प्ले स्टोर से 11 मई 2022 को कॉल रिकॉर्डिंग करने वाली सारी थर्ड पार्टी ऐप्स को हटाने का फैसला किया हैं।

एंड्रॉयड अथॉरिटी की रिपोर्ट्स के अनुसार , गूगल अपनी डेवलपर पॉलिसी में कुछ बदलाव किया हैं जिसकी वजह से कॉल रिकॉर्डिंग वाली थर्ड पार्टी ऐप्स प्ले स्टोर से हटाया जाएगा। हालांकि गूगल द्वारा किए गए इस बदलाव से नेटिव कॉल रिकॉर्डिंग फंक्शन की सुविधा पर कोई असर नहीं पड़ेगा, जो पहले से मोबाइल मे मौजूद होती हैं। गूगल नीति में ये बदलाव ऐप डेवलपर्स द्वारा एक्सेसिबिलिटी एपीआई के इस्तेमाल को प्रभावित करता हैं।

प्राइवेसी पॉलिसी को ध्यान मे रखते हुये लिया हैं फैसला

गूगल अपनी नई नीति के तहत उन API को धीरे-धीरे हटा रहा हैं जो कई Android के अलग अलग वर्जन पर कॉल को रिकॉर्ड करती थीं। कंपनी ने ये फैसला प्राइवेसी पॉलिसी को ध्यान में रखते हुए लिया है क्योंकि अलग अलग देशों मे कॉल रिकॉर्डिंग को लेकर अलग-अलग नियम कानून हैं। वहीं अगर एंड्रॉयड 10 की बात करें तो गूगल ने बाय डिफॉल्ट ही ब्लॉक कर दिया हैं ।

अभी भी कर सकते हैं कॉल रिकॉर्डिंग

गूगल ने अपने प्ले स्टोर से भले हीं कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को हटा दिया हो लेकिन कई मोबाइल कंपनियां अपने स्मार्टफोन बाय डिफ़ाल्ट कॉल रिकॉर्डिंग की सुविधा देती हैं। ओप्पों,विवो, सैमसंग व शाओमी जैसी कंपनियां अपने Android स्मार्टफोन में पहले से ही ग्राहकों को इनबिल्ट कॉल रिकॉर्डिंग का फीचर देती हैं। जिसमे गूगल की नई पॉलिसी का कोई असर नहीं पड़ेगा। ग्राहक पहले जैसे हीं अपनी कॉल रिकॉर्डिंग कर सकेंगे। ।

Previous articleIPL 2022: आचार संहिता तोड़ने पर ऋषभ पंत-शार्दुल ठाकुर को मिली सजा, सहायक कोच हुए बैन
Next articleवीर कुंवर सिंह की पौत्र वधु ने प्रशाशन पर लगाई आरोप, कहा- किले को सील कर मुझे माल्यार्पण करने से रोका