‘अब कोरोना वैक्सीन बनाने का जिम्मा भी सोनू सूद को सौंप देना चाहिए’, एक्‍टर ने दिया ऐसा जवाब

203

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood ) लगातार सुर्खियों में बने हुए है. लॉकडाउन के दौरान फंसे प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) को उनके घर तक पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभा चुके हैं. इस काम के लिए सोनू सूद की जमकर तारीफ हो रही है. अब एक यूजर ने उनसे कुछ ऐसा कह दिया जिसके बाद सोनू सूद ने हाथ जोड़ लिए. उनका ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है और लोग इसपर जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं.

यूजर ने लिखा,’ अब समय आ गया है… जब कोरोना की वैक्सीन बनाने का जिम्मा भी सोनू सूद को सौंप देना चाहिये!’ इस ट्वीट का सोनू सूद मजेदार जवाब दिया है. उन्‍होंने लिखा,’ हा हा हा… इतनी बड़ी ज़िम्मेदारी मत दो भाई.’

बता दें कि अब सोनू सूद ने जॉब हंट ऐप लॉन्च किया है, जिसका नाम है ‘प्रवासी रोजगार ‘. इस मोबाइल ऐप की मदद से नौकरी ढूंढ़ने से जुड़ी जरूरी जानकारी आसानी से मिल सकेगी. सोनू सूद ने ट्वीट कर लिखा, ‘अब है रोजगार की बारी’. लोगों को जॉब दिलाने कोशिश में उनसे एक रुपया भी चार्ज नहीं किया जाएगा.ये ऐप प्रवासियों को रोजगार संबंधी आवश्यक जानकारी और जॉब से संबंधित सही लिंक प्रदान करेगा. ये ऐप देशभर के विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के अवसर ढूंढने वाले श्रमिकों की मदद करेगा.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ये ऐप अभी अंग्रेजी में है और जल्द ही यह एप्लीकेशन पांच भाषाओं में बनाई जायेगी. यह उन मजदूरों के लिए कारगर साबित होगी, जो रोजगार के लिए अपने घर को छोड़कर दूसरे शहर में जाते हैं.

मुंबई मिरर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सोनू सूद ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में इस पहल को डिजाइन करने के लिए बहुत सोचा गया और फिर योजना के साथ तैयारी की गई. शीर्ष संगठनों के साथ व्यापक विचार-विमर्श किया गया है. गैर सरकारी संगठन, परोपकारी संगठन, सरकारी अधिकारी, रणनीति सलाहकार, प्रौद्योगिकी स्टार्टअप और उन सभी लौटे प्रवासियों से जिनकी मैंने मदद की है.

बता दें कि सोनू सूद और उनकी दोस्त नीति गोयल की #GharBhejo पहल के तहत कई प्रवासी मजदूरों को घर भेजा था. अभिनेता को महाराष्ट्र के राज्यपाल, पंजाब के राज्यपाल, ओडिशा के मुख्‍यमंत्री, पंजाब के मुख्‍यमंत्री, शीर्ष राजनीतिक नेताओं ने उनके इस प्रयास के लिए जमकर तारीफ की थी. साथ ही फिल्म के कई कलाकारों ने भी उनके इन प्रयासों के लिए उनकी सराहना की थी.


sources:-Prabhat Khabar