प्रखंड विकास पदाधिकारी (बीडीओ), अंचालाधिकारी (सीओ) व अनुमंडल अधिकारी (एसडीपीओ) कार्यालय में भी शराब पीने की जांच होगी। बीडीओ, सीओ व एसडीपीओ को इसके लिए थाना नहीं जाना नहीं होगा। उत्पाद अधीक्षक दीनबंधु ने डीएम के आदेश पर पटना स्थित मुख्यालय ब्रेथ एनालाइजर मशीन के लिए प्रस्ताव भेजा है। मशीन मिलने के बाद यह प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। उत्पाद अधीक्षक ने बताया कि शराबियों पर पूर्णत: नकेल कसने को लेकर उत्पाद विभाग कई योजनाएं तैयार की है। डीएम मो. सोहैल के आदेश पर 21 ब्रेथ एनालाइजर मशीन की खरीदारी होगी। इसके लिए मुख्यायल को प्रस्ताव भेजा गया है। यह मशीन बीडीओ और सीओ कार्यालय के अलावा एडीपीओ के कार्यालय में भी रखी जाएगी। इससे शराबियों के पकड़े जाने पर जांच के लिए थाने का चक्कर नहीं लगाना होगा।

Input : Live Hindustan

DEMO PHOTO
Previous articleमुजफ्फरपुर : हर रोज बर्बाद हो रहा 120 लाख लीटर पानी
Next articleधर्मपुर :मौत के रास्ते बच्चों को नहीं भेज रहे स्कूल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here