आइसीएसई प्लस टू (12वीं) साइंस 2018 की परीक्षा में भागलपुर की बेटी मीनाक्षी ने देश में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। नाथनगर के मारवाड़ीपट्टी निवासी  मीनाक्षी ने बिना कोई ट्यूशन लिए अपने माता-पिता एवं स्कूल शिक्षकों के मार्गदर्शन में यह शानदार सफलता पाई है। उसने 99.25 फीसद अंक हासिल किए हैं। आगे वह आइएएस बनकर देश की सेवा करना चाहती है।

मीनाक्षी के पिता अभय कुमार साह एक साधारण व्यवसायी हैं। बावजूद इसके मीनाक्षी ने घर पर अपनी मां बैजंती देवी के सानिध्य में कठिन परिश्रम के बल पर गणित और कम्प्यूटर में शत प्रतिशत एवं भौतिकी एवं रसायन में 98 फीसद अंक हासिल किए हैं।

सिविल सेवा में जाने की तमन्‍ना

मीनाक्षी को सिविल सेवा में जाने की तमन्ना है। उसने बताया कि उसे दिल्ली के सेंट स्टीफेन्स कॉलेज से स्नातक की डिग्री लेने की इच्छा है। हालांकि, उसने बीएचयू में भी दाखिले के लिए भी परीक्षा दी है और भरोसा है कि वहां भी नामांकन के लिए चयन हो जाएगा।

फिलहाल कर रही जेईई एडवांस की तैयारी

मीनाक्षी ने प्लस टू का रिजल्ट निकलने से पूर्व ही अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित जेईई मेन की परीक्षा में भी सफलता हासिल की है। वह अब वह 20 मई हो होने वाली जेईई एडवांस की परीक्षा की तैयारी में लगी हुई है।

भागलपुर के सेंट जोसेफ स्‍कूल से की पढ़ाई

बता दें कि मीनाक्षी की प्रारंभिक पढ़ाई सेंट जोसेफ स्कूल भागलपुर से हुई है। वर्ष 2016 की 10वीं की परीक्षा में भी मीनाक्षी ने 97.5 फीसद अंक हासिल कर जिला का टॉपर होने का गौरव हासिल किया था।

लगातार मिल रहे शुभकामना संदेश

उसकी इस शानदार सफलता पर पूरे विद्यालय परिवार ने उसे बधाई दी है। देश भर में दूसरे नंबर पर आने की खबर सुनते ही मीनाक्षी के घर बधाई देने वालों का तांता लग गया है। मीनाक्षी को मोबाइल पर भी लगातार शुभकानाएं मिल रही हैं।

Input : Dainik Jagran

Sigma IT Soloutions, Muzaffarpur, Bihar

Previous articleस्टूडेंट्स न हों कंफ्यूज, बिहार बोर्ड मैट्रिक के रिजल्ट में लगेगा अभी और वक्त
Next articleआठवीं के छात्र की ह’त्या कर पेड़ से लटकाया, एक माह के अंदर बरुराज में दो बच्चों की ह’त्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here