काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआइएससीई) ने सोमवार को अपराह्न तीन बजे अपने पोर्टल पर आइसीएसई 10वीं व आइएससी (12वीं) परीक्षाओं के रिजल्ट जारी कर दिया है। रिजल्ट काउंसिल की आधिकारिक वेबसाइट पर देखे जा सकते हैं। रिजल्ट  एसएमएस पर भी उपलब्‍ध है। बिहार की बात करें तो यहां करीब 97 फीसद परीक्षार्थी उत्‍तीर्ण हुए हैं।

सीआइएससीई ने सोमवार को अपनी वेबसाइट पर रिजल्‍ट जारी किया। इसके लिए पटना जोन के सीआइएससीई से संबद्ध सभी 16 स्कूलों के परीक्षार्थियों में काफी उत्‍सुकता देखी गई। परीक्षार्थियों के साथ उनके परिजन भी रिजल्‍ट के इंतजार में देखे गए।

12वीं में देश की सेकेड टॉपर रही मीनाक्षी

आइसीएसई 12वीं साइंस 2018 की परीक्षा में भागलपुर की मीनाक्षी ने देश में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। नाथनगर के मारवाड़ीपट्टी निवासी  मीनाक्षी ने बिना कोई ट्यूशन लिए अपने माता-पिता एवं स्कूल शिक्षकों के मार्गदर्शन में यह शानदार सफलता पाई है। उसने 99.25 फीसद अंक हासिल किए हैं। मीनाक्षी के पिता अभय कुमार साह एक साधारण व्यवसायी हैं।

मीनाक्षी की प्रारंभिक पढ़ाई सेंट जोसेफ स्कूल भागलपुर से हुई है। वर्ष 2016 की 10वीं की परीक्षा में भी मीनाक्षी ने 97.5 फीसद अंक हासिल कर जिला का टॉपर होने का गौरव हासिल किया था।

10वीं के रिजल्‍ट में पटना स्थित सेंट पॉल स्‍कूल की अनन्‍या बनर्जी को 98.8 फीसद अंक आए हैं। अभी तक की जानकारी के अनुसार यह राज्‍य में सर्वाधिक है। सेंट पॉल के ही आलाेक रंजन को 98 तथा चंद्रशेखर कुमार को 97.2 फीसद अंक मिले हैं।

वेब पोर्टल पर ऐसे देखें रिजल्‍ट

सीआइएससीई सोमवार को अपराह्न तीन बजे अपने पोर्टल ( isc12.jagranjosh.com) पर रिजल्ट जारी करेगा।

रिजल्ट जानने के लिए सबसे पहले बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट isc12.jagranjosh.com पर जाएं। इसके बाद रिजल्ट सेक्शन पर क्लिक कर ICSE 2018 एग्जाम रिजल्ट पर जाएं। वहां अपना रोल नंबर या रजिस्‍ट्रेशन नंबर दर्ज करें। इसके बाद रिजल्ट मिल जाएगा।

Sigma IT Soloutions, Muzaffarpur, Bihar

एसएमएस से ऐसे पाएं जानकारी

रिजल्‍ट एसएमएस से भी उपलब्‍ध होगा। इसके लिए मोबाइल के मैसेज बॉक्स में आइसीएसई या  आइएससी के  साथ सात अंकों का यूनिक आइडी देना होगा, फिर उसे नंबर 09248082883 पर भेजना होगा। इसके बाद रिजल्‍ट आ जाएगा।

परीक्षा में अच्‍छे अंक के लिए शुभकामनाएं। लेकिन, अगर आप अपने नंबर से संतुष्‍ट नहीं हों तो री-चेकिंग के लिए सात दिनों के अंदर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Input : Dainik Jagran

Previous articleहर हादसे के बाद चलता अभियान अगले ही दिन हो जाता बेदम
Next articleनगर निकाय के जनप्रतिनिधियों का बढ़ेगा मानदेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here