सीतामढ़ी के रीगा थाना इलाके के पिपरा गांव में बेटी से हुई छेड़खानी का विरोध करने पर गुरुवार देर रात घर मे घुसकर बदमासों ने पिता-पुत्र को चाकू मारकर हत्या कर दी।

कोचिंग आते-जाते बेटी को तंग करता था आरोपी 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मृतक की बेटी को आरोपी कोचिंग आते-जाते तंग करता था, जिसकी शिकायत उसके परिवार से की गई थी। जिसके बाद से वो गुस्से में था और उसने घर में घुसकर डबल मर्डर को अंजाम दे दिया। मृतक की पहचान रीगा थाना इलाके के पिपरा गांव के आसनारायण दास (55 साल) और उनके बेटे शिवम कुमार (16 साल) के रूप में हुई हैं।

5 लोग हुये गिरफ्तार

वहीं इस घटना की सूचना मिलते हीं पुलिस मौके परपहुँचकर शव को अपने कब्जे मे ले लिया और पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया।पुलिस छानबीन में जुट गई और इस मामले 7 लोगों पर एफ़आईआर दर्ज की हैं जिसमे से 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं।

सोने के दौरान किया हमला

गुरुवार की देर रात पिपरा गांव के हीं नागेंद्र दास के बेटे उदय दास ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया। मृतक आसनारायण दास रात में घर में सो रहे थे, तभी आरोपी ने उनपर चाकू से हमला कर दिया उन्हें बचाने गए बेटे को भी आरोपियों ने चाकू गोद दिया। जिससे दोनों की घटनास्थल पर हीं मृत्यु हो गई।

आरोपी के परिजनों से की थी शिकायत 

मृतक की बेटी ने बताया की, आरोपी ‘उदय अक्सर कोचिंग जाने वक्त रास्ते में परेशान करता था। इसके बाद मेरे परिजनों ने उदय के परिजनों से इसकी शिकायत की थी। जिसे लेकर वो गुस्से में था। मौके की तलाश में लगे उदय ने गुरुवार की रात दोनों की हत्या कर दी।’

इलाके मे दहशत का माहौल

वहीं डबल मर्डर से पूरे इलाके में दहशत का माहौल हैं। मृतक आसनारायण की पत्नी गीता देवी और मां सुनैना देवी, बेटी तनु कुमारी, बहु सीमा कुमारी घर पर ही थे। ये सभी निकले तब तक सभी फरार थे। वही बड़ा बेटा रणधीर बाहर रहकर नौकरी करता हैं। घटना के बाद से मृतक के परिजनों का रो- रोकर बुरा हाल हैं।

Previous articleबिहार के राज्यपाल फागू चौहान की अचानक तबीयत बिगड़ी, एयर एंबुलेंस के जरिए पटना से दिल्ली रेफर
Next articleअमित शाह की बिहार मे हुंकार : बोले – लालू-नीतीश से डरना मत, ऊपर मोदी सरकार हैं, 2025 में बीजेपी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी