Home Muzaffarpur बिजली बिल में न नाम छपता न कंज्यूमर नंबर

बिजली बिल में न नाम छपता न कंज्यूमर नंबर

51
0

ऑन स्पॉट बिजली बिल में भारी गड़बड़ियां सामने आ रही हैं। बिलिंग से लेकर राशि जमा करने तक उपभोक्ताओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। एनबीपीडीसीएल (नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन पावर कंपनी लिमिटेड) यह भी बताने को तैयार को नहीं है कि किस महीने के बिल का भुगतान हुआ है।

ऑन स्पॉट बिलिंग के दौरान उपभोक्ताओं के घरों पर ब्लूटूथ प्रिंटर के माध्यम से जो बिल जेनरेट हो रहे हैं, उसमें न उपभोक्ताओं का नाम दिखता है और न ही उपभोक्ता संख्या। इन उपभोक्ताओं की संख्या भारी तादाद में है। इस बिल को लेकर जब उपभोक्ता एनबीपीडीसीएल के काउंटर पर जमा करने जा रहे हैं तो बिजली विभाग के कर्मचारी लौटा दे रहे हैं। कहा जा रहा है कि इसमें कुछ भी स्पष्ट नहीं है। पुराना बिल लेकर आने पर जमा हो सकता है।

इधर, एनबीपीडीसीएल के अधिकारी भी स्वीकार करते हैं कि ब्लूटूथ प्रिंटर से बिल निकलने के कारण महीने भर में ही छपे अक्षर मिटने लगते हैं। जिन उपभोक्ताओं के बिल सही हैं, उन्हें दी जानेवाले रसीद में यह नहीं दर्शाया जाता कि किस महीने का बिल जमा हुआ है या कितनी यूनिट का बिल जमा किया। रसीद में सिर्फ जमा की गई राशि, उपभोक्ता का नाम और संख्या दर्ज होती है। ऐसे में ऑन स्पॉट बिल महीने भर में मिट जाने की स्थिति में उपभोक्ताओं के पास यह रिकॉड ही नहीं रह पाएगा कि राशि जमा करने के बदले मिली रसीद किस महीने की है।

विभागीय अधिकारी इस गड़बड़ी को दुरुस्त करने के उपायों को भी स्पष्ट नहीं कर पा रहे हैं। अर्बन हेड राजू कुमार का कहना है कि जिन उपभोक्ताओं के बिल ठीक से नहीं छपे हैं, वे पहले का बिल लेकर जाएंगे तो उस आधार पर बिल जमा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही घरों पर ही बिल जमा करने का काम भी शुरू हो जाएगा।

बिल जमा कराने के लिए तिलक मैदान से माड़ीपुर दौड़ते रहे बुजुर्ग :नयाटोला में रहने वाले एक बुजुर्ग उपभोक्ता अपना बिल जमा करने तिलक मैदान स्थित कलेक्शन सेंटर पहुंचे। लाइन में खड़े रहने के आधे घंटे बाद काउंटर तक पहुंचे। उन्हें कहा गया कि इस काउंटर पर नहीं, दूसरे काउंटर पर उनका बिल जमा होगा।

दूसरे काउंटर में लाइन लगने के बाद जब नंबर आया तो बताया गया कि उनका बिल तिलक मैदान नहीं माड़ीपुर में जमा होगा। बुजुर्ग भागे-भागे माड़ीपुर पहुंचे। उनका कहना था कि स्थिति अराजक है। दो काउंटर पर घंटे भर से अधिक लाइन में खड़े होने के बाद यह जानकारी दी गई।

FOR MORE INFO CLICK ON THE PHOTO

बिजली कनेक्शन के बिना ही मीटर लगाने का मामला सामने आया है। गायघाट के कई परिवारों से इस तरह की शिकायतें आ रही हैं। बिजली विभाग के जेई से बात कर शिकायत की है। उनका कहना है कि एक महीना पहले उनके घरों में मीटर लगा दिये गये, लेकिन अबतक पोल से घर तक तार नहीं खींचा गया है। इधर, अगले महीने के पहले सप्ताह में मुख्यमंत्री हर घर बिजली योजना की घोषणा करनेवाले हैं। (वसं.) .

Input : Live Hindustan

CLICK ON IMAGE FOR MORE DETAILS

 

Advertise, Advertisement, Muzaffarpur, Branding, Digital Media

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here