मुजफ्फरपुर में चार नई अदालतें

189

रे’प व अन्य आ’पराधिक मा’मलों की सुनवाई में तेजी लाने के लिए जिले में शीघ्र ही दो फास्ट ट्रैक कोर्ट समेत चार नई अदालत खुलेंगी। इससे पी’ड़ितों को शीघ्र इं’साफ मिल सकेगा। इसके लिए तेजी से कवायद की जा रही है। सिविल कोर्ट प्रशासन ने चारों अदालतों के लिए जगह चिह्नित कर पटना हाईकोर्ट को रिपोर्ट भेज दी है। इसमें एक फैमिली कोर्ट व एक सेशन कोर्ट शामिल है।

Image result for court justice

दोनों फास्ट ट्रैक कोर्ट में वर्षों से लंबित पुराने मामलों में सुनवाई व निष्पादन होगा। इसके अलावा एक फैमिली कोर्ट खोला जाएगा। फिलहाल, पूर्व से एक फैमिली कोर्ट संचालित है। पारिवारिक विवाद के मामले बढ़ने से फैमिली कोर्ट में मुकदमों का बोझ बढ़ा है। पारिवारिक विवादों में तेजी से सुनवाई व निष्पादन के लिए एक अतिरिक्त फैमिली कोर्ट खोलने की मांग उठती रही है। वहीं नए सेशन कोर्ट खुलने से कुल सेशन कोर्ट की संख्या बढ़कर 14 हो जाएगी। सिविल कोर्ट में पूर्व से दो फास्ट ट्रैक कोर्ट हैं। चारों अदालतें पेडेंसी रिडक्शन स्कीम के तहत खोली जाएंगी। 14वें वित्त आयोग से मंजूरी मिली है।