15 हजार लीटर की टंकी को खाली कर की पड़ताल, फॉरेंसिक टीम ने अगल-बगल से सैंपल लिए

85

बालिका गृह कांड में रोज-रोज नए खुलासे के बीच अब बालिका गृह की छत पर स्थित 15 हजार लीटर की पानी टंकी में एक किशोरी को डुबा कर मारने की बात आ रही है। शुक्रवार को सीबीआई टीम फॉरेंसिक विशेषज्ञों के साथ बालिका गृह की छत पर स्थित पानी टंकी की दो घंटे तक जांच-पड़ताल की। पानी टंकी व अगल-बगल से मिट्टी व पानी का नमूना एकत्रित किया। ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु व अश्विनी को 15 दिन तक हिरासत में रखने के बाद गुरुवार को ही सीबीआई ने दोनों को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा। इसके अगले ही दिन शुक्रवार को भारी संख्या में पुलिस बल के साथ बालिका गृह में सीबीआई की टीम एडिशनल एसपी पीके झा के नेतृत्व में पहुंची। सीबीआई ने अनौपचारिक बातचीत में कहा कि एक लड़की को बालिका गृह के ही पानी टंकी में डुबा कर मार दिया गया था। इसी मामले को लेकर पानी टंकी की जांच की गई है। पानी टंकी में किसी किशोरी को डुबोया जा सकता है कि नहीं? सीबीआई अधिकारी ने कहा कि पानी टंकी व वहां से जो नमूना एकत्रित किया गया है।

Input : Dainik Bhaskar