बिहार के मुजफ्फरपुर में जमीन को लेकर भू-माफियाओं में टकराहट होती रही है। इसके बावजूद जमीन से जुड़े हत्या के मामलों में मुजफ्फरपुर पुलिस लाचार दिखती है। अबतक कई ऐसे मामले हैं जो वर्षों से अनसुलझे हैं। इनका खुलासा करना नई एसएसपी हरप्रीत कौर के लिए चुनौती होगी।

अबतक नहीं हो सकी कहनानी हत्याकांड में चार्जशीट :

नगर थाना के पुरानी गुदरी निवासी जमीनदार अशोक कहनानी को 30 मार्च 2016 को बाइक सवार दो अपराधियों ने प्रॉपर्टी डिलिंग को लेकर गोली मारी थी। अगले दिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। इसके बाद केयर टेकर आदित्य के बयान पर नगर थाने में एफआईआर कराई गई थी। लेकिन, पुलिस की कार्यशैली की वजह से इस मामले का अबतक खुलासा नहीं हो सका है।

SSP Muzaffarpur, Harpreet Kaur

पेशकार हत्याकांड की भी नहीं सुलझी गुत्थी :

समस्तीपुर फैमिली कोर्ट में कार्यरत पेशकर ओबैदुल्ला जावेद अख्तर की हत्या बाइक सवार अपराधियों ने बनारस बैंक चौक के समीप 21 अगस्त 2017 को गोली मारकर कर दी थी। वह चंदवारा स्थित घर से स्टेशन के लिए पैदल ही निकले थे। इस मामले में अज्ञात अपराधियों के खिलाफ एफआईआर कराई गई थी। लेकिन, पुलिस अबतक पुलिस हत्या की वजह व अपराधियों के गिरोह का खुलासा नहीं कर सकी है।

Input : Hindustan

Previous articleकभी था गंदगी के लिए बदनाम, अब भारतीय रेलवे ने सौंदर्यीकरण के लिए दिया इनाम
Next articleमुजफ्फरपुर से दिल्ली जा रही यात्री भरी बस में लगी आग, 12 लोगों की झुलसकर मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here