लॉकडाउन के चलते दुबई में फंसे सोनू निगम, ट्विटर पर हो रही गिरफ़्तारी की मांग, जानें पूरा मामला

483

बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते पिछले कुछ दिनों से दुबई में फंसे हुए हैं। मगर, मंगलवार को अचानक ट्विटर पर सोनू ट्रेंड होने लगे और उनकी गिरफ़्तारी की मांग उठने लगी। इसके पीछे उनका कुछ साल पुराने ट्वीट को वजह बताया जा रहा है, जिसमें सोनू ने धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर लगाने पर आपत्ति ज़ाहिर की थी। हंगामे से बचने के लिए सोनू फ़िलहाल ट्विटर से चले गये हैं।

Sonu Nigam's degeneration from lead singer to chorus of Twitter ...

ट्विटर पर कुछ यूज़र सोनू के लगभग 3 साल पुराने ट्वीट्स पोस्ट करके दुबई अथॉरिटीज़ से उनकी गिरफ़्तारी की मांग कर रहे हैं। उन्होंने इसको लेकर ट्वीट्स किये हैं। हालांकि कुछ सोनू के दुबई में फंसने पर उनका मज़ाक भी बना रहे हैं कि अब कैसे वो अज़ान की आवाज़ बर्दाश्त कर रहे होंगे। सोनू ने दुबई में फंसे होने का एलान कुछ दिनों पहले ही किया था और वहीं से ऑनलाइन कॉन्सर्ट भी कर रहे हैं।

 

 

 

ट्रेंड हुए सोनू, डिलीट किया एकाउंट

ट्विटर पर सोनू निगम के दुबई स्टे को लेकर जो हंगामा चल रहा है, उसको देखते हुए उन्होंने अपना ट्विटर एकाउंट फ़िलहाल डिसेबिल कर दिया है, जिसके चलते #SonuNigam और #सोनू_निगम_तुम_कहां_हो ट्रेंड कर रहे हैं।

क्या है तीन साल पुराना विवाद

दरअसल, 2017 में सोनू निगम ने ट्वीट के ज़रिए धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर लगाने का मुद्दा उठाया था। सोनू ने तर्क दिया था कि जिस वक़्त धर्मों की शुरुआत हुई थी, उस वक़्त बिजली नहीं थी। फिर बाद में लोगों को यह सब करने की क्या ज़रूरत है। सोनू ने इसे गुंडागर्दी का नाम दिया था।

हालांकि हंगामा बढ़ने पर सोनू निगम ने सफ़ाई भी थी कि यह किसी धर्म विशेष के बारे में नहीं है। उन्होंने कहा था कि यह सिर्फ़ लाउडस्पीकर के बारे में है। वो मंदिर, मस्जिद या गुरुद्वारा कहीं भी हों, ख़राब हैं। आइए, पहले इंसान बनें। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्दनेज़र 24 मार्च से देशभर में लॉकडाउन चल रहा है। 14 अप्रैल तक लॉकडाउन था, जिसे बढ़ाकर 3 मई कर दिया गया है।

Input : Dainik Jagran