तिरुपति से लोकसभा सांसद बल्ली दुर्गा प्रसाद का आज एक अस्पताल में नि/धन हो गया. वह कोरोना वायरस से संक्रमित थे और उनका इलाज चेन्नई के एक अस्पताल में चल रहा था. दुर्गा प्रसाद के नि/धन पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया है.

पीएम मोदी ने कहा, ”लोकसभा सांसद बल्ली दुर्गा प्रसाद राव के नि/धन से दुखी हूं. वह एक अनुभवी नेता थे, जिन्होंने आंध्र प्रदेश की प्रगति में प्रभावी योगदान दिया. इस दुख की घड़ी में मेरे विचार उनके परिवार और शुभचिंतकों के साथ हैं. ओम् शांति.” पारिवार के सदस्यों ने बताया कि सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस के 65 वर्षीय सांसद चेन्नई के अस्पताल में भर्ती थे. तीन सप्ताह पहले उनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी, उप मुख्यमंत्री के नारायण स्वामी, उद्योग मंत्री मेकापति गौतम रेड्डी और चित्तूर जिले के कई विधायकों ने प्रसाद की मौ/त पर दुख व्यक्त किया है. वह अविभाजित आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू के मंत्रिमंडल में मंत्री रह चुके थे.

उपराष्ट्रपति ने भी जताया दुख : देश के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शोक जताते हुए ट्वीट कर लिखा कि तिरुपति से लोकसभा सांसद श्री बल्ली दुर्गा प्रसाद राव जी के असामयिक नि/धन पर दुखी हूं। उनके परिजनों और सहयोगियों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।

लोकसभा स्पीकर ने दी श्रद्धांजलि : वहीं लोकसाभ स्पीकर ओम बिड़ला ने भी सांसद बल्ली दुर्गा प्रसाद राव के नि/धन पर दुख जताया। उन्होंने ट्वीट किया कि आंध्र प्रदेश के तिरुपति से लोकसभा सांसद श्री दुर्गा प्रसाद राव बल्ली जी के दुखद नि/धन के बारे में सुनकर दुखी हुआ। शोकाकुल परिवार के प्रति मेरी संवेदना हैं।

चार बार विधायक और 1 बार सांसद रहे : वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेता बल्ली दुर्गा प्रसाद राव मूल रूप से आंध्र प्रदेश के नेल्लोर के निवासी थे। गुडूर जिले से वह 1985-1989 के दौरान और 1994 से 2014 के बीच चार बार विधायक रहे। बल्ली दुर्गा ने 1996 और 1998 के बीच प्राथमिक शिक्षा मंत्री और 2009 और 2014 के बीच लोक लेखा समिति के सदस्य के रूप में भी कार्य किया। हाल के चुनावों में, उन्होंने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ा और तिरुपति लोकसभा सीट से सांसद के रूप में चुने गए।

सांसद वसंतकुमार की हो भी चुकी है मौ/त : बता दें कि मॉनसून सत्र शुरू होने के पहले तक सात केंद्रीय मंत्री और दोनों सदनों को मिलाकर लगभग दो दर्जन सांसद अबतक कोरोनावायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं। इससे पहले लोकसभा में तमिलनाडु से सांसद एच वसंतकुमार की कोरोना से मौ/त भी हो चुकी है। इसके अलावा देश में कई विधायकों की मौत भी कोरोना के कारण हुई है।