मुंबई से दूर बिहार के अपने गांव में इस अंदाज में सर्दियां एन्जॉय कर रहें हैं मिर्जापुर फेम पंकज त्रिपाठी : कड़ाके की ठंड की वजह से जहां पूरा बिहार घने कोहरे और शीतलहर के चपेट में है वहीं बॉलीवुड के मशहूर फिल्म अभिनेता पंकज त्रिपाठी (Actor Pankaj Tripathi) इन दिनों अपने पैतृक गांव में सर्दियो को एन्जॉय कर रहे हैं. बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) जिला स्थित बरौली के बेलसंड में पंकज त्रिपाठी के पहुंचने की सूचना पर सुबह से ही उनके फैन्स का तांता लगा हुआ है और युवाओ में सेल्फी लेने की होड़ मची है.

पंकज त्रिपाठी की आने वाली कौन कौन से फिल्मे है इसको लेकर उन्होंने news18 संवादाता से बातें कीं. पंकज त्रिपाठी ने कहा की वो कई दिनों से अपने घर बरौली के बेलसंड में छुट्टियां मना रहे हैं. वो बहुत सालो के बाद अपने गांव में खुद को ओस की बूंदों से भीगोने आये हुए हैं.

पंकज त्रिपाठी बोले- भले ही मुझे स्टारडम मिल जाए पर मैं वैसा आचारण कभी नहीं कर पाऊंगा : कालीन भैया (Kaleen Bhaiya)’ के किरदार से पॉपुलर हो चुके एक्टर पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi) का कहना है कि फिल्म जगत में मिली कामयाबी से उनकी जिंदगी पर कोई फर्क नहीं पड़ा है. उन्होंने कहा कि वे रियल लाइफ में ‘स्टारडम’ की एक्टिंग नहीं कर सकते, इसलिए वे पर्दे पर इसका अनुभव लेंगे.

एक्टर के लिए 2020 का साल कामयाबी भरा रहा. उन्होंने ‘गुंजन सक्सेनाः द करगिल गर्ल’ में संवेदनशील एक्टिंग की जबकि ‘मिर्जापुर’ सीजन दो में भी ‘कालीन भैया (Kaleen Bhaiya)’ का किरदार शानदार तरीके से निभाया. इसके अलावा अनुराग बसु की ‘लुडो’ में ‘सत्तु भैया’ की भूमिका निभाई.

वह अब ‘शकीला’ में दिखेंगे जो वयस्क एक्टर के लाइफ बेस्ड है. वह 1990 के दशक में केरल के सबसे बड़े सितारों में से एक थे. एक्टर ने पीटीआई को दिए इंटरव्यू में कहा कि, ‘इंद्रजीत लंकेश (निर्देशक) ने मुझे स्क्रिप्ट सुनाई और मुझे यह बहुत पसंद आई. यह सुपरस्टार सलीम का किरदार था और मैं जानता था कि मुझे यह अनुभव कभी नहीं मिलेगा कि स्टारडम कैसा होता है, लिहाजा मैंने सोचा कि क्यों न इस भूमिका के जरिए स्टारडम का अनुभव किया जाए.’

उन्होंने कहा, ‘यह मेरे लिए अच्छा मौका था. किरदार थोड़ा चमकीला है और रंगीन कपड़े पहनता है. वह अप्रत्याशित है या अप्रत्याशित प्रस्तुतियां देता है.’ एक्टर ने कहा कि कई कामयाब फिल्में और कार्यक्रम देने के बावजूद उनकी असल जिंदगी में कोई बदलाव नहीं आया है.

त्रिपाठी ने कहा, ‘हम सभी, पारंपरिक सुपरस्टार को लेकर, उसके जीवन को लेकर और वह जो करता है उसे लेकर खास छवि और धारणा बना लेते हैं. मैं जानता हूं कि भले ही मुझे स्टारडम मिल जाए, मैं कभी भी उस छवि के अनुरूप आचारण नहीं कर पाऊंगा.’

उन्होंने कहा, ‘मैं एक साधारण व्यक्ति हूं और अगर कोशिश भी करूं तो मैं वह नहीं कर पाऊंगा. मैं रियल लाइफ में एक्टिंग नहीं कर सकता हूं. मेरा मानना है कि मैं सिर्फ परदे पर ही स्टारडम का अनुभव ले सकता हूं.’ ‘शकीला’ में ऋचा चड्ढा लीड रोल में हैं. यह 25 दिसंबर को रिलीज हो रही है.

Previous articleमकर संक्रांति के बाद बिहार में बड़ा आंदोलन करेगी RJD, यहां जानें क्या है Tejashwi का मास्टर प्लान
Next articleदूल्हा ट्रैक्टरों की बारात लेकर पहुंचा शादी करने, किसान आंदोलन में अनोखी तस्वीर