पटना : पटना सिटी में के वार्ड संख्या 60 के मोगलपुरा, खिरनी तल इलाके में एक बोरिंग पंप स्थल से अतिक्रमण हटाने गए मजिस्ट्रेट के साथ अतिक्रमणकारीयो ने मार पिटाई करके बदसलूकी किया । अतिक्रमणकारीयो के हंगामा देख टीम वापस लौट गयी।

इस मामले मे वार्ड पार्षद शोभा देवी ने बताया कि खिरनी तल के पास लगभग 1 साल से उच्च प्रवाही बोरिंग पंप बनकर तैयार है। लेकिन अतिक्रमण के कारण इसे अब तक चालू नही किया जा सका है। उस बोरिंग पंप के पास ही पारसनाथ का बेटा अमित कुमार ने गैराज बनाकर कब्जा कर लिया हैं । इस अतिक्रमण से बोरिंग पंप चालू करने में बहुत परेशानी हो रही हैं इसलिए इसकी लिखित शिकायत निगमायुक्त और डीएम को दी गई थी।

इसी घटना को लेकर गुरुवार को जिला से आए एक्जीयूटिव मजिस्ट्रेट राकेश कुमार निगम पदाधिकारियों के साथ बोरिंग पंप वाले स्थान पर पहुंचे। लेकिन यहां दबंग अतिक्रमणकारी ने खाजेकलां पुलिस की मौजूदगी होने के बावजूद उनके साथ बदसलूकी कर पिटाई कर दी । और साथ जेसीबी मशीन को भी अपने कब्जे में ले लिया। वार्ड पार्षद शोभा देवी ने निगमायुक्त व पटना डीएम से इस घटना की जांच कर दोषी के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की। साथ ही नवनिर्मित बोरिंग पम्प परिसर को अतिक्रमण से मुक्त कराकर पम्प को शीघ्र चालू कराने की मांग की। जिससे कि मोहल्ले मे लोगो को पानी की समस्या से निजात मिल सके।

दोषी के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का निर्देश

इस घटना के संबंध में अजीमाबाद अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी नुरुल हक शिवानी ने कहा कि मजिस्ट्रेट के साथ हाथापाई और मार पीट की सूचना मिली हैं । घटना की जानकारी वरीय अधिकारियों को दे दी गई है। वहीं एसडीओ मुकेश रंजन ने कहा कि खाजेकला थाना को मामले की छानबीन कर दोषी के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है।

Previous articleजहरीली शराब कांड मामले में शराब माफियाओं के घरों पर चले बुलडोजर
Next articleबिना घोषणा के ही रणजी टीम बना बंगाल भेज दिया बिहार क्रिकेट एसोसिएशन, खिलाड़ियों और प्रवक्ता ने लगाए गंभीर आरोप