देश में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच रेलवे बोर्ड ने आज फैसला किया कि 12 अगस्त तक मेल, एक्सप्रेस, पैसेंजर ट्रेन, लोकल ट्रेन और ईएमयू (EMU) ट्रेनें नहीं चलाई जाएंगी। इसके अलावा अगर किसी की 12 अगस्त तक रेग्युलर ट्रेन में बुकिंग है तो उसे 100 फीसद रिफंड मिलेगा। रेलवे बोर्ड की ओर से आज एक सर्कुलर जारी कर यह जानकारी दी गई है।

स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी

इससे पहले 13 मई के अपने आदेश में रेलवे बोर्ड ने कहा था कि 30 जून तक रेग्लुलर ट्रेन की बुकिंग रद की जा रही है और इसमें यात्रियों को पूरा रिफंड मिलेगा। अब जबकि ट्रेन रद की तारीख बढ़ा दी गई है, तो रिफंड की सुविधा भी 12 अगस्त तक कर दी गई है। इस दौरान 12 मई से चालू स्पेशल राजधानी ट्रेन और 1 जून से चालू स्पेशल मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें पहले की तरह चलती रहेंगी।

अभी 30 जून तक रेल सेवा बंद थी

इससे पहले रेल मंत्रालय ने सोमवार को एक सर्कुलर जारी करते हुए सभी जोन को सूचित किया था कि 14 अप्रैल या उससे पहले बुक किए गए सभी टिकटों का रिफंड कर दिया जाए। अभी तक रेलवे ने 30 जून तक ही रेल सेवाओं को बंद करे की घोषणा की है। ताजा सर्कुलर में इसे 12 अगस्त तक कर दिया गया है।

15 अगस्त से पहले तक की बुक सभी टिकटों के पैसे रिफंड होंगे

रेलवे के नियमों के अनुसार अधिकतर 120 दिन पहले किसी ट्रेन का टिकट बुक कराया जा सकता है। अब जब रेलवे ने 14 अप्रैल और उससे पहले के सभी टिकटों का रिफंड करने को कहा है, यानी करीब 15 अगस्त से पहले तक की बुक सभी टिकटों के पैसे रिफंड हो जाएंगे। तो क्या रेलवे की ओर से ट्रेनें 15 अगस्त के बाद चलाई जाएंगी?


Sources:-Dainik Jagran