फिल्म पद्मावत के लिए बेस्ट कॉस्ट्यूम डिजाइनर का अवार्ड समस्तीपुर के अजय को

समस्तीपुर के एक और बेटे ने बॉलीवुड में अपनी पहचान कायम कर ली है। बॉलीवुड फिल्मों में जिले के मुसरीघरारी थाना क्षेत्र अंतर्गत उदापट्टी गांव निवासी सेवानिवृत्त शिक्षक रामविलास पासवान के पुत्र अजय कुमार ने बतौर कॉस्ट्यू म डिजाइनर बेहतर काम किया है। संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बनाई गई फिल्म पद्मावत में कास्ट्यूम डिजाइन किया था। रविवार को मुंबई में स्टार स्क्रीन अवार्ड प्रतियोगिता में अजय को यह सम्मान दिया गया।

मुंबई में फिल्म ओ माई फ्रेंडस गणेशा 4 में कॉस्टय़ूम डिजाइनिंग (वेशभूषा) का काम मिलने पर बिहार के समस्तीपुर निवासी अजय कुमार की किस्मत चमक गई। फिल्म बाजीराव मस्तानी में डिजाइनिंग का काम करने के बाद पद्मावत में भी डिजाइनर का काम किया। अजय ने समस्तीपुर जिले के जवाहर नवोदय विद्यालय बरौली से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की। इसके बाद गांधीनगर निफ्ट से पढ़ाई की है। शुरुआती दौर में एक्सपोर्ट कंपनी में काम मिला, लेकिन फिल्मों में डिजाइनिंग कर अपनी पहचान बनाने के जुनून के वे मुंबई पहुंच कर काम करने लगे।

तीन घंटे कैसे बीते पता ही नहीं चला

अजय ने बताया कि 20 अगस्त 2012 को भंसाली प्रोडक्शन से फोन आया था। फिल्म बाजीराव मस्तानी में डिजाइनिंग काम करने का ऑफर मिला। इस फिल्म के मुख्य किरदारों को छोड़कर बाकी कलाकारों के कॉस्टय़ूम डिजाइन करने का मौका मिला। इस फिल्म के बैकग्राउंड से लेकर, डांसर और योद्धाओं के कॉस्टय़ूम अजय ने ही डिजाइन किया है। इसके अलावा खास किरदारों की कास्ट््यूम डिजाइन की। कुमार ने बताया कि फिल्म से पहले भंसाली जी ने मुझे अपनी बात कहने के लिए पांच मिनट का समय दिया था। इसके बाद जैसे ही कुमार फिल्म से संबंधित कॉस्ट््यूम डिजाइन पर बात करने लगे तो तीन घंटा कैसा बीता पता नहीं चला। इसके बाद पद्मावत में भी उन्हें काम करने का मौका मिला। जिसमें बेहतर कार्य के लिए अवार्ड दिया गया है।

रामलीला में मिला पहला मौका

सोमवार को मोबाइल पर दैनिक जागरण से हुई विशेष बातचीत में अजय ने बताया कि शुरुआती समय में फिल्म में कोई काम नहीं मिल रहा था, लेकिन हिम्मत नहीं हारी। काम की तलाश में लगातार संघर्ष करता रहा। बच्चों की फिल्म ओ माई फ्रेंड्स गणेशा 4 में पहली बार कास्ट्यूम डिजाइनिंग (वेशभूषा) का काम मिला। पर यह फिल्म रिलीज नहीं हुई। इसके बाद सीरियल में काम करने का मौका मिला। टीवी सीरियल हर हर महादेव में कॉस्ट्यूम डिजाइन किया। इसमें मन नहीं लगा। इसके बाद भंसाली की फिल्म रामलीला में ट्रेनी में काम करने का मौका मिला। बिना छुट्टी लिए लगातार सेट पर काम करता रहा। इसके बाद कैटरीना कैफ और सैफ अली खान की फिल्म फैंटम में मुझे कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग का काम मिला।

इनपुट : दैनिक जागरण

832 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
832 Shares