पूर्वी चंपारण : चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने जनसुराज पदयात्रा के दौरान एक बार फिर महागठबंधन सरकार पर जमकर हमला बोला हैं। पीके ने कहा की बिहार मे जंगलराज पिछले दरवाजे से फिर घुस रहा हैं इसे रोकने की जरूरत हैं. लालू यादव और नीतीश कुमार के राज में कोई भी फर्क नहीं हैं। बिहार मे दोनों 35 साल से शासन कर रहे हैं। उन्होंने मिलकर बिहार की यह दुर्दशा कर दी हैं।

बिहार में कोई भी काम बिना भ्रष्टाचार के नहीं होता हैं : पीके

प्रशांत किशोर ने जनसुराज पदयात्रा के दौरान पूर्वी चंपारण जिले में एक सभा को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं। पीके अपनी इस यात्रा के दौरान लगातार महागठबंधन सरकार पर हमला बोल रहे हैं। उन्होंने कहा की बिहार में अभी कोई भी काम बिना भ्रष्टाचार के नहीं होता हैं बिहार को सुधारना हैं, अपनी जिंदगी बेहतर बनानी हैं तो एक अच्छी सरकार को लाना होगा।

अधिकारी किसी भी जनप्रतिनिधी की बात नहीं सुन रहे हैं

पीके ने लोगों से आगे कहा की आपने लालू यादव के अपराधियों वाले जंगलराज को उखाड़कर फेंक दिया था। लेकिन अब वही जंगलराज पिछले दरवाजे से घुस रहा हैं। नीतीश कुमार के राज में अब अधिकारियों का जंगलराज है, इसे भी दूर करने की जरूरत हैं। बिहार के अधिकारी किसी भी जनप्रतिनिधी की बात नहीं सुन रहे हैं यहाँ तक कई मंत्रियों की बात नहीं सुना जा रहा हैं।

पीएम मोदी पर भी बोला हमला

प्रशांत किशोर ने सभा को संबोधित करते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा की, भाजपा को बिहार की जनता ने वोट देकर 2020 विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनाई थी। लेकिन उसने अपने समीकरण बचाते हुए नीतीश कुमार को ही मुख्यमंत्री बनने दिया। पीएम मोदी बिहार में बदलाव नहीं चाहते हैं। उन्होंने लालू यादव और नीतीश कुमार के भरोसे ही बिहार को छोड़ दिया।

Previous articleकल से शुरू होगा भारत और न्यूजीलैंड के बीच वनडे सीरीज, शिखर धवन करेंगे कप्तानी
Next articleसेक्स के दौरान 67 साल के शख्स की मौत, बैग में भरकर शव सड़क पर फेंक आई गर्लफ्रेंड