वैशाली जिले में एक RTI एक्टिविस्ट के मर्डर की खबर मिल रही है. बुधवार को इस वारदात को दिनदहाड़े अंजाम दिया गया है. मिल रही जानकारी के मुताबिक घटना जिले के गोरौल की है जहां इनायतनगर पंचायत समिति सदस्य सावित्री देवी के पुत्र जयंत उर्फ हैप्पी पर अपराधियों ने दनादन गोलियां बरसा दीं. जिसके बाद जयंत की मौत हो गई. इस हत्या के बाद से इलाके में दहशत का माहौल कायम हो गया है. साथ ही इस हत्याकांड के बाद से लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया है.

बताया जाता है कि मृतक जयंत उर्फ हैप्पी आरटीआई कार्यकर्ता भी था. उसने आरटीआई की मदद से गोरौल के पूर्व थानाध्यक्ष से लेकर कई पुलिस कर्मियों के खिलाफ कई दस्तावेज भी निकाले थे और राजनेताओं के खिलाफ भी उसने आरटीआई की मदद से कई साक्ष्य जमा किये थे. उसके मामलों की सुनवाई कई बार राज्य सूचना आयोग तक में भी हुई थी.

APPLY THESE STEPS AND GET ALL UPDATES ON FACEBOOK

गोलीबारी के बाद फूटा पब्लिक का आक्रोश

गोलीबारी की इस घटना में इसी पंचायत के उप मुखिया के पति अरविंद सिंह भी गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें इलाज के लिये स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने एनएच 78 और 77 को शव रखकर जाम कर दिया है और सड़क पर आगजनी भी कर रहे हैं. लोगों के विरोध के चलते हाजीपुर-मुजफ्फरपुर मार्ग पर वाहनों का परिचालन ठप हो गया है.

एईएस के कारण का पता नहीं और ‘बदनाम’ हो रही लीची

इस घटना के बाद से लोगों का आक्रोश फूट पड़ा है. मौके पर पुलिस भी पहुंच चुकी है. स्थिति को कंट्रोल में लेने की कोशिश की जा रही है. लेकिन दिनदहाड़े जयंत की हत्या के बाद से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. जयंत की हत्या के पीछे की वजह अब तक साफ़ नहीं हो सकी है. पुलिस इस मर्डर के जांच में जुट चुकी है. प्रशासन का कहना है कि तफ्तीश के बाद ही इस हत्या की वजह का पता चल पाएगा. साथ ही यह भी दावा किया जा रहा है कि हत्यारे को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Input : Live Cities

Previous articleएईएस के कारण का पता नहीं और ‘बदनाम’ हो रही लीची
Next articleसांसद व विधायकों के खिलाफ पटना के विशेष कोर्ट में ट्रांसफर होगा केस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here